होम करुणा के सागर थे महत्मा बुद्ध : डा० आर० के० वर्मा

हक़ीक़त

करुणा के सागर थे महत्मा बुद्ध : डा० आर० के० वर्मा

करुणा के सागर थे महत्मा बुद्ध : डा० आर० के० वर्मा

करुणा के सागर थे महत्मा बुद्ध : डा० आर० के० वर्मा

बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर बौद्ध धम्य यात्रा के समापन गौतम बुद्ध पब्लिक स्कूल लीलापुर में किया गया। समापन के अवसर पर आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुये मा० विधायक विश्वनाथगंज डा० आर० के० वर्मा जी ने कहा कि भगवान बुद्ध दुनिया के पहले वैज्ञानिक हैं। भगवान बुद्ध ने राज परिवार में जन्म लेकर भी हमेशा गरीबों दीन दुखियों व असहायों के लिये कार्य किये । उनके द्वारा बनाया गये बौद्ध धर्म को जब भारत में आत्मसात किया गया तब भारत विश्व का गुरु कहलाया एवं हमारा देश को सोने की चिड़िया कहा गया महत्मा बुद्ध का समाज में फैली हुई तमाम कुरीतियों को मिटाने में अहम योगदान रहा है।
आगे बोलते हुये मा० विधायक विश्वनाथगंज डा० आर० के० वर्मा जी ने आज फिर से भगवान के बताये रास्ते पर चलने की जरुरत है। जिससे देश में फैले आतंकवाद नक्सलवाद छुआ-छूत ऊच-नीच को खत्म किया जा सके एवं भगवान बुद्ध के सपनों का भारत बनाया जा सके।
कार्यक्रम की अध्यक्षता डा० सदाशिव वर्मा व संचालन हरिनाथ मौर्या ने किया इस मौके पर विधायक पी०आर०अो० बी० एल० पटेल प्रेमनाथ सरोज अलोक कुशवाहा अभिमन्यु सिंह कुवर बहादुर वर्मा सन्तोष सरोज बी० एल० वर्मा अोम प्रकाश शैलेन्द्र सागर आदि लोग उपस्थित रहे।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Facebook, Twitter, व Google News पर हमें फॉलो करें और लेटेस्ट वीडियोज के लिए हमारे YouTube चैनल को भी सब्सक्राइब करें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top