होम इंसानियत की मिशाल है ये टीचर

हक़ीक़त

इंसानियत की मिशाल है ये टीचर

टीचर हो तो ऐसी जो स्टूडेंट के लिए बेच दिए अपने गहने

इंसानियत की मिशाल है ये टीचर

तमिलनाडू : तमिलनाडू में एक ऐसी शिक्ष‍िका हैं, जिन्होंने छात्रों की खातिर अपनी ज्वेलरी बेच दी, तमिलनाडू के सरकारी स्कूल पंचायत यूनियन प्राइमरी स्कूल कठमांडू में क्लास 3 के बच्चों को पढ़ाने वाली अन्नापूर्णा मोहन ने अपने छात्रों को वैश्व‍िक स्तर की सुविधा देने के लिए अपने गहने तक बेच दिए |

इंडिया टुडे से बातचीत करते हुए अन्नपूर्णा ने कहा कि मुझे वाकई खुशी महसूस हो रही है कि लोग मेरी पहल की सराहना कर रहे हैं, जब मैंने स्कूल ज्वाइन किया था तब बच्चे अंग्रेजी नहीं बोल पाते थे, 5 साल के दौरान मैंने बच्चों की जरूरतों को समझा और उनके परफॉर्मेंस को अनालाइज करना शुरू किया |अन्नपूर्णा को धीरे-धीरे यह बात समझ आ गई कि उनके बच्चों में टैलेंट की कमी नहीं है, पर अंग्रेजी आड़े आ रही है, इसलिए उन्होंने बच्चों की इस कमी को दूर करने के लिए पूरे क्लासरूम को मॉडर्न क्लारूम में बदल दिया, इसके लिए उन्हें पैसे की जरूरत थी, इसलिए उन्होंने अपने गहने बेच दिए|

आज अन्नपूर्णा के छात्र बेहतर उच्चारण के साथ अंग्रेजी बोल सकते हैं, अन्नपूर्णा कहती हैं कि तकनीक की मदद से हम बच्चों को बेहतर सीखने का मौका दे सकते हैं, कक्षाओं को बेहतर तकनीक के साथ जोड़ना चाहिए |अन्नपूर्णा मानती हैं कि बच्चों की खुशी और उनका जीवन संवारने के आगे गहनों की सुंदरता कुछ भी नहीं है |

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Facebook, Twitter, व Google News पर हमें फॉलो करें और लेटेस्ट वीडियोज के लिए हमारे YouTube चैनल को भी सब्सक्राइब करें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top