शिक्षा

जर्मनी की शैक्षिक यात्रा से स्वदेश लौटी सी.एम.एस. प्रधानाचार्याओं का भव्य स्वागत

जर्मनी की शैक्षिक यात्रा से स्वदेश लौटी सी.एम.एस. प्रधानाचार्याओं का भव्य स्वागत

जर्मनी की शैक्षिक यात्रा से स्वदेश लौटी सी.एम.एस. प्रधानाचार्याओं का भव्य स्वागत

Photo

लखनऊ 17 सितम्बर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल की सुपीरियर प्रिन्सिपल एवं क्वालिटी अश्योरेन्स एवं इनोवेशन डिपार्टमेन्ट की हेड सुश्री सुष्मिता बासु, सी.एम.एस. गोमती नगर कैम्पस की वरिष्ठ प्रधानाचार्या सुश्री मंजीत बत्रा एवं सी.एम.एस. कानपुर रोड कैम्पस की प्रधानाचार्या डा. (श्रीमती) विनीता कामरान जर्मनी की 8-दिवसीय शैक्षिक यात्रा से स्वदेश लौट आई। स्वदेश वापसी पर विद्यालय के शिक्षकों ने अमौसी एअरपोर्ट पर तीनो प्रधानाचार्याओं का जोरदार स्वागत किया। सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि सी.एम.एस. की तीनों वरिष्ठ प्रधानाचार्याएं भारत-जर्मनी शैक्षिक आदान-प्रदान प्रोग्राम के अन्तर्गत विदेश की शिक्षा पद्धति के 
अध्ययन हेतु जर्मनी गई थी। इस शैक्षिक यात्रा के दौरान सी.एम.एस. प्रधानाचार्याओं ने छात्रों के सर्वांगीण विकास हेतु नई शिक्षण पद्धतियों पर जर्मनी के शिक्षाविद्ों से चर्चा-परिचर्चा की एवं जर्मनी के विभिन्न विद्यालयों का भ्रमण कर उनकी शिक्षा पद्धति की जानकारी प्राप्त की।
    श्री शर्मा ने बताया कि सी.एम.एस. प्रधानाचार्याओं की शैक्षिक यात्रा की जानकारियाँ एवं अनुभव सी.एम.एस. छात्रों को आधुनिक युग के अनुकूल सर्वांगीण शिक्षा प्रदान करने में महत्वपूर्ण साबित होंगे। इस यात्रा के दौरान जर्मनी के शिक्षाविद्ों को भी सी.एम.एस. की शिक्षा पद्धति ‘ब्राडर एण्ड बोल्डर एजुकेशन’ को जानने-समझने का अवसर मिला। इस प्रकार सी.एम.एस. प्रधानाचार्याओं की जर्मनी की शैक्षिक यात्रा शिक्षा के क्षेत्र में किए जा रहे आधुनिक प्रयासों में मील का पत्थर साबित हुई है।
    श्री शर्मा ने बताया कि सी.एम.एस. का मानना है कि उद्देश्यपूर्ण शिक्षा एक ऐसी शिक्षा है जो एक अच्छा इंसान, परिवार व समाज का एक अच्छा सदस्य तथा राष्ट्र तथा विश्व का एक अच्छा नागरिक बनाती है। उन्होंने कहा कि आधुनिक स्कूल को अपने युग की समस्याओं से भी जुड़ा होना चाहिए तथापि शिक्षा का उद्देश्य मानव जाति को उसकी सभी समस्याओं, उसके संशय, उसके आन्तरिक संघर्ष तथा उसे अनेकता के कारणों से मुक्त कराना भी होना चाहिए।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top