दक्षिण कोरिया के प्रतिनिधि मंडल ने सी.एम.एस. की शिक्षा पद्धति को सराहा

दक्षिण कोरिया के प्रतिनिधि मंडल ने सी.एम.एस. की शिक्षा पद्धति को सराहा

दक्षिण कोरिया के प्रतिनिधि मंडल ने सी.एम.एस. की शिक्षा पद्धति को सराहा

Photo

लखनऊ, 7 अगस्त। सिटी मोन्टेसरी स्कूल की शैक्षिक यात्रा पर पधारे दक्षिण कोरिया की विश्व स्तरीय संस्था ‘एच.डब्ल्यू.पी.एल.’ (हीवेनली कल्चर, वर्ल्ड पीस, रेस्टोरेशन ऑफ लाईट) के तीन सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल ने विद्यालय की ‘ब्राडर एण्ड बोल्डर शिक्षा पद्धति’ एवं विश्व एकता व विश्व शान्ति हेतु सी.एम.एस. के प्रयासों की भरपूर सराहना की। इस शैक्षिक यात्रा के दौरान दाक्षिण कोरियाई प्रतिनिधियों सुश्री पार्क एह रियम, सुश्री सिओ अन्जेयांग एवं सुश्री कैंग वोनयंग ने सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी से भेंट कर ‘डिक्लेरेशन ऑफ पीस एण्ड सीजेशन ऑफ वॉर (डी.पी.सी.डब्ल्यू.) स्मृति पत्र प्रदान किया। इससे पहले, तीन दिवसीय शैक्षिक यात्रा के दौरान दाक्षिण कोरिया से पधारे प्रतिनिधियों ने सी.एम.एस. के विभिन्न कैम्पसों में जाकर विद्यालय की शिक्षा पद्धति का अध्ययन किया एवं विद्यालय में प्रतिदिन होने वाली प्रार्थना सभा व अन्य गतिविधियों में शामिल  हुए, साथ ही साथ छात्रों, शिक्षकों व प्रधानाचार्याओं से विचार विमर्श किया।

            इस अवसर पर प्रतिनिधि मंडल की डायरेक्टर सुश्री पार्क एह रियम ने कहा कि इस यात्रा से हमें बहुत कुछ सीखने को मिला है और निश्चित ही विश्व एकता की शिक्षा 21वीं सदी की सबसे बड़ी आवश्यकता है। हम सब मिलकर ‘विश्व एकता’ की आवाज उठायेंगे और सभी देशों में प्यार व शान्ति का वातावरण बनेगा। दल के सदस्यों ने कहा कि सीएमएस द्वारा प्रदान की जा रही संतुलित शिक्षा, विश्वव्यापी तथा वैज्ञानिक दृष्टिकोण से हम बहुत अधिक प्रभावित हैं।

            सी.एम.एस. के इण्टरनेशनल रिलेशन्स के हेड श्री शिशिर श्रीवास्तव ने बताया कि एच.डब्ल्यू.पी.एल. विश्व की अग्रणी स्वयंसेवी संस्थाओं में एक है जिससे दुनिया भर में एक लाख से अधिक स्वयंसेवी कार्यकर्ता जुड़े हुए हैं। श्री श्रीवास्तव ने कहा कि सी.एम.एस. एवं एच.डब्ल्यू.पी.एल. के बीच विचारों का आदान-प्रदान विद्यालय के विश्व एकता मिशन में महती भूमिका निभायेगा।

 

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top