युवाशिक्षा

अन्तर्राष्ट्रीय कामर्स एवं इकोनाॅमिक्स सम्मेलन सी.एम.एस. में 1 नवम्बर से

अन्तर्राष्ट्रीय कामर्स एवं इकोनाॅमिक्स सम्मेलन सी.एम.एस. में 1 नवम्बर से

अन्तर्राष्ट्रीय कामर्स एवं इकोनाॅमिक्स सम्मेलन सी.एम.एस. में 1 नवम्बर से

Photo

लखनऊ, 24 अक्टूबर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, स्टेशन रोड कैम्पस के तत्वावधान में चार दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय युवा कामर्स एवं इकोनाॅमिक्स सम्मेलन (आई.वाई.सी.सी.ई.-2019) का आयोजन आगामी 1 से 4 नवम्बर 2019 तक सी.एम.एस. कानपुर रोड आॅडिटोरियम में किया जा रहा है। इस अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन में प्रतिभाग हेतु माॅरीशस, नेपाल, श्रीलंका, यू.ए.ई., नाईजीरिया एवं भारत के विभिन्न प्रान्तों से लगभग 500 छात्र लखनऊ पधार रहे हैं। यह जानकारी आज यहाँ आयोजित एक प्रेस कान्फ्रेन्स में आई.वाई.सी.सी.ई.-2019 की संयोजिका एवं सी.एम.एस. स्टेशन रोड कैम्पस की प्रधानाचार्या श्रीमती वीरा हजेला ने पत्रकारों को दी। पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए श्रीमती हजेला ने कहा कि यह अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन छात्रों में नेतृत्व एवं प्रबन्धन की क्षमता विकसित करने का एक प्रयास है जिसके माध्यम से देश-विदेश के छात्रों को एक अन्तर्राष्ट्रीय मंच पर प्रतियोगिताओं के माध्यम से अपना कौशल दिखाने का भरपूर अवसर प्राप्त होगा।

            प्रेस कान्फ्रेन्स में बोलते हुए श्रीमती वीरा हजेला ने कहा कि यह अन्तर्राष्ट्रीय युवा कामर्स एवं इकोनाॅमिक्स सम्मेलन विश्व के विभिन्न देशों के छात्रों को अपने विचारों को साझा करने एवं स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के माहौल में अपने ज्ञान-विज्ञान के प्रदर्शन का अवसर उपलब्ध करायेगा। उन्होंने कहा कि इस सम्मेलन का उद्देश्य आर्थिक खुशहाली को बढ़ावा देना तो है ही, साथ ही साथ युवा पीढ़ी में गरीबी-अमीरी का फासला कम करने एवं आर्थिक समानता को बढ़ावा देने का अलख जगाना है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि यह सम्मेलन देश-विदेश के छात्रों को नये विचारों एवं ज्ञान से परिपूर्ण करने के साथ ही उनमें नेतृत्व एवं प्रबन्धन की क्षमता विकसित करने में मददगार साबित होगा।

            ‘आई.वाई.सी.सी.ई.-2019’ की प्रतियोगिताओं की जानकारी देते हुए श्रीमती वीरो हजेला ने बताया कि विभिन्न देशों के छात्र इस अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन की रोचक प्रतियोगिताओं के माध्यम से अपने ज्ञान-विज्ञान का प्रदर्शन करेंगे जिनमें बिज-क्विज (बिजनेस क्विज), बुल वर्सेज बियर (वाद-विवाद), बी-प्लान (सृजनात्मक विचार), फिनटून्स (फाइनेन्शियल कार्टून), काॅम डाट नेट (कामर्स ज्ञान), कार्पोरेट कान्शन्स (सामाजिक जागरूकता), साई-टूल्स (साइंटफिक माडल), साउण्ड आॅफ साइलेन्स (कोरियोग्राफी), इन्टरप्रिन्योर एक्सप्रेशन्स (भाषण) एवं एड-वेन्चर (इण्डस्ट्री प्रजेन्टेशन) आदि प्रतियोगितायें आयोजित की जायेंगी। प्रतियोगिताओं के अलावा प्रबुद्ध हस्तियों के सारगर्भित अभिभाषण भी इस सम्मेलन का प्रमुख आकर्षण होगा, जिसके माध्यम से देश-विदेश के छात्र मार्गदर्शन प्राप्त कर सकेंगे। इसके अलावा विभिन्न मैनेजमेन्ट एक्सपर्ट एवं एन.जी.ओ. के प्रमुख भी सम्मेलन में पधारकर इसकी गरिमा को बढ़ायेंगे एवं छात्रों का मार्गदर्शन करेंगे।

            प्रेस कान्फ्रेन्स में बोलते हुए सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने कहा कि विश्व की परिस्थितियाँ आज यही संदेश दे रही हैं कि आर्थिक समानता ही विश्व को एकता के मंच पर ला सकती है, जिसके लिए भावी पीढ़ी को तैयार करना हम सभी का कर्तव्य है। डा. गाँधी ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि इस अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन में विभिन्न देशों से पधारे छात्र अपने ज्ञान-विज्ञान का अभूतपूर्व प्रदर्शन करने के साथ ही एक-दूसरे की सभ्यता व संस्कृति से भी परिचित हो सकेंगे।

            सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि आई.वाई.सी.सी.ई.-2015 का भव्य उद्घाटन 1 नवम्बर को सायं 5.00 बजे सी.एम.एस. कानपुर रोड आॅडिटोरियम में सम्पन्न होगा। प्रदेश के वित्त मंत्री श्री सुरेश खन्ना इस अवसर पर मुख्य अतिथि होंगे जबकि सी.एम.एस. छात्र देश-विदेश से पधारे सम्मानित अतिथियों के सम्मान में रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों की छटा बिखेरेंगे। श्री शर्मा ने बताया कि इस अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेेलन में देश-विदेश के 63 छात्र टीमें प्रतिभाग कर रही हैं।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top