राज्यउत्तर प्रदेश

लाॅकडाउन के दौरान आॅनलाइन कक्षाओं के लिए सी.एम.एस. ने जारी किया टाइम-टेबल

लाॅकडाउन के दौरान आॅनलाइन कक्षाओं के लिए सी.एम.एस. ने जारी किया टाइम-टेबल

लाॅकडाउन के दौरान आॅनलाइन कक्षाओं के लिए सी.एम.एस. ने जारी किया टाइम-टेबल

Photo

              लखनऊ, 29 मार्च। लाॅकडाउन के दौरान छात्रों की पढ़ाई के नुकसान को देखते हुए सी.एम.एस. शिक्षकों ने छात्रों को शिक्षा प्रदान करने हेतु ई-लर्निंग का रास्ता अपनाया है, जिसे छात्रों व अभिभावकों द्वारा खूब पसन्द किया जा रहा है और अभिभावक सी.एम.एस. की इस शैक्षिक मुहिम की भरपूर सराहना कर रहे हैं। इसी कड़ी में, सी.एम.एस. के विभिन्न कैम्पस की प्रधानाचार्याओं, स्कूल इन्चार्ज व शिक्षकों ने छात्रों की आॅनलाइन कक्षाओं हेतु टाइम-टेबल तैयार किया है, जिससे सभी छात्रों को विभिन्न विषयों की आॅनलाइन कक्षाओं के समय, अवधि व पाठ्यक्रम की पहले से ही जानकारी हो और वे महत्वपूर्ण विषयों को सीखने व समझने से न चूकें, साथ ही अपने असाइनमेन्ट को समय पर पूरा कर सकें।

                इसी संदर्भ में सी.एम.एस. राजेन्द्र नगर (प्रथम कैम्पस) की प्रधानाचार्या श्रीमती जयश्री कृष्णन ने बताया कि वे प्रतिदिन अपने शिक्षकों के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये आॅनलाइन मीटिंग करती हैं और उनसे प्रतिदिन के लेसन प्लान व छात्रों की प्रगति की जानकारी प्राप्त करती हैं। उन्होंने विषयवार टाइमटेबल को पाठ्यक्रम के साथ छात्रो के साथ साझा किया है, जिससे छात्रों को आॅनलाइन कक्षाओं के दौरान अपने विषय की तैयारी करने और अपनी जिज्ञासाओं का समाधान करने में बहुत सहूलियत हो रही है। इसी का परिणाम है कि छात्र इन आॅनलाइन कक्षाओं में अधिकतम उपस्थिति सुनिश्चित कर रहे हैं, जो हमारे लिए प्रसन्नता का विषय है।

                विदित हो कि सी.एम.एस. के सभी कैम्पस की प्रधानाचार्यांए प्रतिदिन वीडियो कान्फ्रेसिंग केे माध्यम से शिक्षण प्रक्रिया को छात्रों के लिए रूचिपूर्ण बनाने, लेसन प्लान तैयार करने एवं छात्रों को ई-लर्निंग हेतु प्रेरित करने के तौर-तरीकों पर विचार-विमर्श कर प्रबन्धन कर रही हैं। इसके साथ ही, वे विषय विशेष में कमजोर छात्रों पर विशेष ध्यान दे रही हैं, और प्रतिदिन के आधार पर छात्रों की प्रगति की समीक्षा कर रही हैं।

                सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने बताया कि सी.एम.एस. में शिक्षकों को काफी पहले से ही आधुनिकतम तकनीकों की ट्रेनिंग प्रदान की जाती रही है, यही कारण है कि स्कूल बंदी के इस दौर में छात्रों को विभिन्न विषयों आॅनलाइन शिक्षा प्रदान करने के साथ ही सी.एम.एस. के फिजिकल एजूकेशन शिक्षक भी शिक्षा प्रदान कर रहे हैं। म्यूजिक टीचर छात्रों को विभिन्न प्रकार के वाद्ययंत्र बजाना सिखा रहे हैं जबकि डांस टीचर बच्चों को नृत्य व संगीत की शिक्षा दे रहे हैं।

                प्रो. किंगडन ने आगे कहा कि वर्तमान समय में, जबकि कोरोना वायरस के खतरे के कारण स्कूल बंद हैं और छात्रों को आॅनलाइन शिक्षा प्रदान की जा रही है, ऐसे में शिक्षकों के लिए जरूरी है कि वे छात्रों को व्यवस्थित एवं योजनाबद्ध तरीके शिक्षा प्रदान करें। प्रधानाचार्याओं द्वारा शिक्षण प्रक्रिया की आॅनलाइन माॅनीटरिंग एवं टाइम-टेबल का निर्धारण ऐसे उपाय हैं जिससे शिक्षा पद्धति को और प्रभावशाली बनाया जा सके ताकि स्कूल बंदी के इस दौर में छात्रों को अधिकतम लाभ प्राप्त हो सके।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

Facebook

To Top