युवाशिक्षा

जे.ई.ई. मेन्स परीक्षा में सी.एम.एस. की चार छात्राएं टॉपर, चारों के 99 परसेन्टाइटल से अधिक अंक

जे.ई.ई. मेन्स परीक्षा में सी.एम.एस. की चार छात्राएं टॉपर, चारों के 99 परसेन्टाइटल से अधिक अंक

जे.ई.ई. मेन्स परीक्षा में सी.एम.एस. की चार छात्राएं टॉपर, चारों के 99 परसेन्टाइटल से अधिक अंक

Photo

लखनऊ, 13 सितम्बर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, आर.डी.एस.ओ. कैम्पस की दो मेधावी छात्राओं अलीशा शर्मा और अमीषा शर्मा  सी.एम.एस. गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) की छात्राओं नन्दिनी दारूक एवं खुशी वर्मा ने कोरोना महामारी की विषम परिस्थितियों के बावजूद इंजीनियरिंग की संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई-मेन) में टाॅप कर सी.एम.एस. का नाम गौरवान्वित किया है। इस प्रतिष्ठित परीक्षा में सी.एम.एस. गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) की छात्रा नन्दिनी दारूक ने 99.84 परसेन्टाइल अर्जित कर बालिका वर्ग में सिटी टाॅपर का गौरव अपने नाम किया है जबकि खुशी वर्मा ने 99.56 परसेन्टाइटल, अलीशा शर्मा ने 99.23 परसेन्टाइटल एवं अमीषा शर्मा ने 99.15 परसेन्टाइटल अर्जित कर अभूतपूर्व सफलता का परचम लहराया है। इन मेधावी छात्राओं ने अपनी सफलता का श्रेय सी.एम.एस. शिक्षकों व विद्यालय के शान्तिपूर्ण शैक्षिक वातावरण को दिया है। सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गांधी ने सी.एम.एस. छात्राओं की सफलता पर बधाई देते हुए कहा कि इन मेधावी छात्राओं ने अपने विद्यालय के साथ ही लखनऊ का भी गौरव बढ़ाया है। उन्होंने विद्यालय के शिक्षकों का भी हार्दिक आभार व्यक्त किया जो छात्रों की सफलता हेतु लगातार कठिन परिश्रम कर रहे हैं। इन्हीं विद्वान शिक्षकों की बदौलत सी.एम.एस. छात्र शैक्षिक क्षेत्र में नये-नये कीर्तिमान गढ़ रहे हैं और विश्व स्तर पर अपनी पहचान बना रहे हैं।

               सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि एक अनौपचारिक वार्ता में सी.एम.एस. की  इन मेधावी छात्राओं ने बताया कि कोरोना महामारी का परीक्षा की तैयारी पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा, फिर भी अपने शिक्षकों के मार्गदर्शन व स्वप्रेरणा से परिश्रम कर उच्च सफलता अर्जित की। सी.एम.एस. गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) की छात्रा नन्दिनी दारूक ने इसी वर्ष मार्च 2020 की आई.एस.सी. (कक्षा-12) की बोर्ड परीक्षा 97.7 प्रतिशत अंको से उत्तीर्ण की है और वे कम्प्यूटर इंजीनियरिंग के क्षेत्र में कैरियर बनाना चाहती है। इसी कैम्पस की छात्रा खुशी वर्मा ने भी इसी वर्ष आई.एस.सी. बोर्ड परीक्षा में 99.25 प्रतिशत अंक अर्जित किये हैं और वे सिविल इंजीनियरिंग के क्षेत्र में कैरियर बनाना चाहती है। इसी प्रकार सी.एम.एस. आर.डी.एस.ओ. कैम्पस की दोनों मेधावी छात्राएं अलीशा शर्मा और अमीषा शर्मा जुड़वा बहने हैं। दोनों ने ही वर्ष 2019 की आई.एस.सी. (कक्षा-12) की बोर्ड परीक्षा क्रमशः 93.5 प्रतिशत एवं 93.75 प्रतिशत के साथ उत्तीर्ण की है। ये दोनों छात्राएं इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के क्षेत्र में आगे बढ़ाना चाहती हैं।

               श्री शर्मा ने बताया कि जनवरी में आयोजित जेईई मेन के पहले चरण में भी सी.एम.एस. छात्रों ने अपनी अभूतपूर्व सफलता का परचम लहराया था, जिसमें सी.एम.एस. के 20 छात्रों ने 99 परसेन्टाइल से अधिक अंक अर्जित किये थे जबकि 263 छात्रों ने 90 परसेन्टाइल से अधिक अंक अर्जित कर देश भर की टाॅप 10 परसेन्टाइल सूची में स्थान अर्जित किया था।

 

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top