युवाशिक्षा

आई.आई.टी.-जे.ई.ई. मेन्स परीक्षा में सी.एम.एस. से सर्वाधिक 303 छात्रों ने चयनित होकर बनाया रिकार्ड

आई.आई.टी.-जे.ई.ई. मेन्स परीक्षा में सी.एम.एस. से सर्वाधिक 303 छात्रों ने चयनित होकर बनाया रिकार्ड

आई.आई.टी.-जे.ई.ई. मेन्स परीक्षा में सी.एम.एस. से सर्वाधिक 303 छात्रों ने चयनित होकर बनाया रिकार्ड

Photo

लखनऊ, 20 सितम्बर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल के मेधावी छात्रों ने ‘आई.आई.टी.-जे.ई.ई. मेन्स’ परीक्षा में अभूतपूर्व सफलता का परचम लहराकर विद्यालय का नाम पूरे देश में गौरवान्वित किया है। इस वर्ष सी.एम.एस. के सर्वाधिक 303 छात्र ‘आई.आई.टी.-जे.ई.ई. मेन्स’ परीक्षा में चयनित हुए हैं जो कि अपने आप में एक रिकार्ड है। इसके अलावा, सी.एम.एस. के 175 छात्रों ने 90 परसेन्टाइल से अधिक अंक अर्जित किये हैं जबकि 21 छात्रों के 99 परसेन्टाइल से अधिक अंक अर्जित कर अपने मेधात्व का परचम लहराया है। इंजीनियरिंग की प्रवेश परीक्षा में चयनित सी.एम.एस. छात्रों ने अपनी अभूतपूर्व सफलता के लिए सी.एम.एस. शिक्षकों के प्रति हार्दिक आभार व्यक्त किया है।

            सी.एम.एस. के जिन 21 छात्रों ने 99 परसेन्टाइटल से अधिक अंक अर्जित कर विद्यालय के गौरवमयी इतिहास में नया आयाम जोड़ा है, उनमें श्रेयांस सिंह (99.86 परसेन्टाइल), आयुष कुमार द्विवेदी (99.85 परसेन्टाइल), नन्दिनी दारूक (99.84 परसेन्टाइल), पार्थ बंसल (99.73 परसेन्टाइल), आदर्श गोयल (99.71 परसेन्टाइल), विवान मैत्रेय (99.67 परसेन्टाइल), सात्विक चन्द्र शुक्ला, (99.60 परसेन्टाइल), आर्यन अग्रवाल (99.59 परसेन्टाइल), खुशी वर्मा (99.56 परसेन्टाइल), कनद पाण्डेय (99.55 परसेन्टाइल), अनुभा त्रिपाठी (99.54 परसेन्टाइल), यश पन्त (99.52 परसेन्टाइल), ध्रुव रोहिरा (99.48 परसेन्टाइल), अमृतांश नारायन यादव (99.38 परसेन्टाइल), सुदीप श्रीवास्तव (99.30 परसेन्टाइल), पियूष कुमार (99.24 परसेन्टाइल), अलीशा वर्मा (99.23 परसेन्टाइल), ज्योदिरादित्य मिश्रा (99.22 परसेन्टाइल), अमीषा वर्मा (99.15 परसेन्टाइल), मानवेन्द्र प्रताप सिंह (99.08 परसेन्टाइल) एवं श्रेया भगत (99.01 परसेन्टाइल) शामिल हैं।

            सी.एम.एस. संस्थापक डा. जगदीश गाँधी ने विद्यालय के छात्रों की सफलता पर प्रसन्नता व्यक्त हुए कहा है कि सी.एम.एस. छात्रों की इस सफलता का श्रेय वास्तव में सी.एम.एस. के कर्तव्यपरायण शिक्षकों को जाता है जिनमे अथक परिश्रम व लगन के कारण प्रतिवर्ष भारी संख्या में सी.एम.एस. छात्र आई.ए.एस., इंजीनियरिंग, मेडिकल व अन्य व्यावसायिक कोर्सों के लिए चयनित होते हैं।

            सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि सी.एम.एस. में आई.एस.सी. की पढ़ाई के दौरान ही छात्रों को प्रोफेशनल कोर्सो की तैयारी हेतु प्रोत्साहित किया जाता है। इसके अलावा, छात्रों प्रतिभा को निखारने व संवारने के लिए विभिन्न अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं के माध्यम से छात्रों को अन्तर्राष्ट्रीय मंच उपलब्ध कराया जाता है। इन्ही प्रयासों का प्रतिफल है कि इस वर्ष आई.आई.टी.-जे.ई.ई. मेन्स परीक्षा में सी.एम.एस. छात्रों ने रिकार्ड संख्या में चयनित होकर अपने मेधात्व का परचम लहराया है।

 

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top