राज्यउत्तर प्रदेश

अन्तर्राष्ट्रीय युवा महोत्सव में छात्रों द्वारा भेजी गई प्रविष्टियों ने दिया विश्व एकता का संदेश

अन्तर्राष्ट्रीय युवा महोत्सव में छात्रों द्वारा भेजी गई  प्रविष्टियों ने दिया विश्व एकता का संदेश

अन्तर्राष्ट्रीय युवा महोत्सव में छात्रों द्वारा भेजी गई प्रविष्टियों ने दिया विश्व एकता का संदेश

Photo

लखनऊ, 7 दिसम्बर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, राजाजीपुरम (द्वितीय कैम्पस) द्वारा ‘अन्तर्राष्ट्रीय युवा महोत्सव’ का आज आॅनलाइन आयोजन सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों की शानदार प्रस्तुतियों के बीच हाँगकाँग, थाईलैण्ड, बांग्लादेश, श्रीलंका, नेपाल एवं भारत के विभिन्न राज्यों के छात्रों से प्राप्त रोचक प्रतियोगिताओं की प्रवष्टियों को आॅनलाइन प्रदर्शित किया गया। विभिन्न देशों के छात्रों की इन शानदार प्रविष्टियों ने बड़े ही अनूठे ढंग से विश्व एकता एवं विश्व शान्ति का संदेश दिया, जिसे सभी दर्शकों एवं निर्णायक मण्डल ने भरपूर सराहा। इस आॅनलाइन समारोह में विद्यालय द्वारा आयोजित विभिन्न रोचक प्रतियोगिताओं जैसे एक्प्रेशन्स (कार्ड डिजाइनिंग प्रतियोगिता), माइराइड ह्यूज (पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता), फोटोमोन्टेज (कोलाज मेकिंग प्रतियोगिता) एवं पोएट्री इन वाॅइस (कविता पाठ प्रतियोगिता) हेतु प्रतिभागी छात्रों की सर्वश्रेष्ठ प्रविष्टियों को सम्मानित किया गया। प्रविष्टियों के चयन में ख्याति प्राप्त लेखकों व कलाकारों आदि ने निर्णायकों की भूमिका निभायी।

            इससे पहले, समारोह के मुख्य अतिथि डा. आर.पी. सिंह, प्रोफेसर, इंग्लिश, लखनऊ विश्वविद्यालय ने कार्यक्रम का शुभारम्भ करते हुए कहा कि सम्पूर्ण विश्व समाज आज एक वैचारिक क्रान्ति के दौर से गुजर रहा है। ऐसे में हम सभी का यह दायित्व है कि नई पीढ़ी को इस प्रकार शिक्षित व मार्गदर्शन प्रदान किया जाए जिससे आदर्श विश्व समाज की स्थापना का मार्ग प्रशस्त हो सके। सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने इस अवसर पर कहा कि मुझे विश्वास है कि इस अन्तर्राष्ट्रीय युवा महोत्सव विश्व शान्ति एवं विश्व एकता की दिशा में एक सार्थक पहल साबित हुआ है। सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने अपने संबोधन में कहा कि यह युवा महोत्सव देश-विदेश के छात्रों को एक ऐसा मंच प्रदान करता है जहाँ छात्रों की प्रतिभा को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर विकसित होने का सुअवसर प्राप्त होता है। सी.एम.एस. के चीफ एक्जीक्यूटिव आॅफीसर श्री रोशन गाँधी ने भी युवा महोत्सव के आयोजन की भूरि-भूरि प्रशंसा करते हुए कहा कि इस महोत्सव ने छात्रों के अन्दर छिपी प्रतिभा को नये आयाम दिये हैं और उसे अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्थापित किया है।

            ‘अन्तर्राष्ट्रीय युवा महोत्सव’ के अन्तर्गत 6 देशों की 32 छात्र टीमों ने अपनी प्रविष्टियां भेजी हैं, जिनमें प्राईमरी, जूनियर एवं सीनियर वर्ग के छात्र शामिल हैं। जहाँ एक ओर प्रतिभागी छात्रों ने एक्प्रेशन्स (कार्ड डिजाइनिंग प्रतियोगिता) के अन्तर्गत गुडलक, ग्रैटीट्यूड एवं कान्ग्रेच्युलेशन फाॅर सक्सेस विषयों पर कार्ड बनाये तो वहीं दूसरी ओर  माइराइड ह्यूज (पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता) में ‘म्यूजिक - फूड फॅार द सोल’, ‘नाॅक्टर्नल वण्डरलैण्ड’ एवं ‘फ्लाइट्स आॅफ फैन्टेसी’ विषयों पर बहुत ही आकर्षक पोस्टर बनाकर भेजे। इसी प्रकार फोटोमोन्टेज (कोलाज मेकिंग प्रतियोगिता) के अन्तर्गत छात्रों ने नेचर्स ब्यूटी, रीसाईकिलिंग - इण्डलेस प्राॅसेस एवं टुगेदर वी कैन हील द वल्र्ड विषय पर जबकि पोएट्री इन वाॅइस (कविता पाठ प्रतियोगिता) के अन्तर्गत ‘ह्यूमर्स’ एवं ‘वण्डर्स आॅफ नेचर’ विषयों पर सारगर्भित विचार प्रकट किये।

            इस अवसर पर देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों व शिक्षकों को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए ‘अन्तर्राष्ट्रीय युवा महोत्सव’ की संयोजिका एवं सी.एम.एस. राजाजीपुरम (द्वितीय कैम्पस) की प्रधानाचार्या सुश्री पूनम अरोड़ा ने कहा कि भावी पीढ़ी ही नये विश्व समाज की आधारशिला रखेगी। ऐसे में यह अन्तर्राष्ट्रीय महोत्सव में छात्रों की प्रतिभा को निखारने के साथ ही ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ की भावना को सारे विश्व में प्रवाहित करने में सफल साबित हुआ है।

 

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top