राज्यउत्तर प्रदेश

सी.एम.एस. छात्रों को आने वाले कल के लिए तैयार कर रहा है-- उप-मुख्यमंत्री, उ.प्र., डा. दिनेश शर्मा

सी.एम.एस. छात्रों को आने वाले कल के लिए तैयार कर रहा है-- उप-मुख्यमंत्री, उ.प्र., डा. दिनेश शर्मा

सी.एम.एस. छात्रों को आने वाले कल के लिए तैयार कर रहा है-- उप-मुख्यमंत्री, उ.प्र., डा. दिनेश शर्मा

Photo

लखनऊ, 19 जनवरी: सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) द्वारा आयोजित तीन दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय पर्यावरण ओलम्पियाड (आई.ई.ओ.-2021) का आॅनलाइन उद्घाटन आज सायं प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा द्वारा रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियों के बीच सम्पन्न हुआ। इस अवसर अपने संबोधन में डा. शर्मा ने कहा कि सी.एम.एस. छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के साथ ही पर्यावरण जैसे जरूरी विषयों पर सामाजिक चेतना जगाने में भी अग्रणी है और इस प्रकार सी.एम.एस. छात्रों को आने वाले कल के लिए तैयार कर रहा है। उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि सी.एम.एस. ने अत्यन्त महत्वपूर्ण विषय पर अन्तर्राष्ट्रीय ओलम्पियाड आयोजित किया है जो कि भारत को एक विकसित देश बनाने में महत्वपूर्ण साबित होगा। विदित हो कि 19 से 21 जनवरी तक आॅनलाइन आयोजित आई.ई.ओ.-2021 में जर्मनी, जार्डन, रूस, अमेरिका, कैनडा, आयरलैंड, सऊदी अरब, श्रीलंका, नेपाल एवं भारत के विभिन्न राज्यों से मेधावी छात्र प्रतिभाग कर रहे हैं।

            इससे पहले, आई.ई.ओ.-2021 के उद्घाटन समारोह का शुभारम्भ वर्चुअल प्लेटफार्म पर स्कूल प्रार्थना, सर्वधर्म प्रार्थना व विश्व शान्ति प्रार्थना से हुई। इस अवसर पर एक शानदार विश्व संसद का प्रदर्शन भी हुआ, जिसमें विभिन्न देशों का प्रतिनिधित्व करते हुए छात्रों ने विश्व की समस्याओं की गहन चर्चा की। कार्यक्रम में भारतीय लोकगीतों का आलोक बिखरते एवं विश्व एकता व शान्ति का सन्देश देते प्रेरणादायी सांस्कृतिक कार्यक्रमों ने सभी का दिल जीत लिया। इस अवसर पर अपने संबोधन में सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने कहा कि  पर्यावरण को शुद्ध बनाये रखने हेतु जन-जन को सक्रिय सहयोग की महती आवश्यकता है। यह ओलम्पियाड किशोर एवं युवा पीढ़ी को पर्यावरण के प्रति उनके दायित्वों से अवगत कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायेगा। सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने कहा कि ग्लोबल वार्मिंग एवं जलवायु परिवर्तन के इस नाजुक दौर में छात्रों व युवा पीढ़ी को पर्यावरण की चिन्तनीय स्थिति से रूबरू कराना आवश्यक है, जिससे भावी पीढ़ी पर्यावरणीय चुनौतियों को समझकर अपने नजरिये में सकारात्मक बदलाव लाएं। इस अवसर पर अन्तर्राष्ट्रीय पर्यावरण ओलम्पियाड (आई.ई.ओ.-2021) की संयोजिका एवं सी.एम.एस. गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) की वरिष्ठ प्रधानाचार्या सुश्री मंजीत बत्रा, आई.ई.ओ.-2021 की सह-संयोजिका एवं सी.एम.एस. गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) की प्रधानाचार्या श्रीमती संगीता बनर्जी एवं श्रीमती सुषमा राजकुमार, कोआर्डिनेटर, सी.एम.एस. कैम्ब्रिज सेक्शन ने भी अपने विचार व्यक्त किये।

            सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि इस अन्तर्राष्ट्रीय ओलम्पियाड के अन्तर्गत देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों के लिए विभिन्न ज्ञानवर्धक व रोचक प्रतियोगिताएं आयोजित की जा रही हैं, जिनमें रिसाइकिल फाॅर लाइफ, द ह्यू स्टोरी, फैंटेसी कार्निवाल, इकोस्पेरिटी, स्प्रेड योर विंग्स, ओड टु नेचर, वेबसाइट डिजाइनिंग, माइस्ट्रीज आॅफ नेचर, इमैजिनियरिंग माई यूचर, विन्ड्स आॅफ चेन्ज एवं शटर एण्ड क्विल आदि प्रमुख हैं। प्रतियोगिताओं का आयोजित कल 20 जनवरी को प्रातः 10.00 बजे से आॅनलाइन किया जायेगा।

 

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

Facebook

To Top