राज्यउत्तर प्रदेश

अन्तर्राष्ट्रीय पर्यावरण: अलौकिक सौन्दर्य को उजागर किया देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों ने

अन्तर्राष्ट्रीय पर्यावरण: अलौकिक सौन्दर्य को उजागर किया देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों ने

अन्तर्राष्ट्रीय पर्यावरण: अलौकिक सौन्दर्य को उजागर किया देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों ने

Photo

लखनऊ, 21 जनवरी: सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) द्वारा आॅनलाइन आयोजित तीन दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय पर्यावरण ओलम्पियाड (आई.ई.ओ.-2021) में जर्मनी, जार्डन, रूस, अमेरिका, कैनडा, आयरलैंड, सऊदी अरब, श्रीलंका, नेपाल एवं भारत के विभिन्न राज्यों से मेधावी छात्रों ने विभिन्न ज्ञानवर्धक व रोचक प्रतियोगिताओं के माध्यम से प्रकृति के अलौकिक सौन्दर्य को उजागर किया एवं बड़े ही जोरदार ढंग से पर्यावरण संरक्षण का संदेश सारी दुनिया को दिया। इस ओलम्पियाड में देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों ने रिसाइकिल फाॅर लाइफ, द ह्यू स्टोरी, फैंटेसी कार्निवाल, इकोस्पेरिटी, स्प्रेड योर विंग्स, ओड टु नेचर, वेबसाइट डिजाइनिंग, माइस्ट्रीज आॅफ नेचर, इमैजिनियरिंग माई यूचर, विन्ड्स आॅफ चेन्ज एवं शटर एण्ड क्विल आदि विभिन्न प्रतियोगिताओं में अपने ज्ञानविज्ञान का परचम लहराया, साथ ही प्रकृति के पंचतत्वों जल, वायु, अग्नि, धरती व आकाश के महत्व से रूबरू कराकर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। इसके अलावा, सायंकालीन सत्र में विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजयी छात्रों को पुरष्कृत कर सम्मानित किया गया।

            सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि आज आई.ई.ओ.-2021 के अन्तर्गत आज सम्पन्न हुई इमैजिनियरिंग माई फ्यूचर (रीडिजाइनिंग द ग्लोब) प्रतियोगिता सभी के आकर्षण का केन्द्र रही। इस प्रतियोगिता में प्रतिभागी छात्रों की क्षमता देखते ही बनती थी, जिन्होंने ‘माई आइडिया आॅफ ए स्मार्ट सिटी’ विषय पर एक से बढ़कर इको-फ्रेण्डली एवं समाजोपयोगी माॅडलों द्वारा अपनी सृजनात्मक क्षमता का प्रदर्शन किया, साथ ही, निर्णायक मंडल द्वारा प्रोजेक्ट व माॅडलों से सम्बन्धित सवालों के जवाब भी दिये एवं पर्यावरण के प्रति जागरूकता व ज्ञान से सभी को आश्चर्यचकित कर दिया। प्रतिभागी छात्रों ने स्वनिर्मित विज्ञान माडलों द्वारा भी विज्ञान को मानवता के विकास हेतु उपयोग करने का संदेश दिया।

            श्री शर्मा ने बताया कि माइस्ट्रीज आॅफ नेचर (इन्वार्यनमेन्ट क्विज) प्रतियोगिता भी बेहद दिलचस्प रही। इस प्रतियोगिता में 8 टीमों ने फाइनल राउण्ड में प्रतिभाग किया एवं अपने ज्ञान, प्रतिभा व सूझबूझ से उपस्थित दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। प्रतियोगिता का संचालन प्रख्यात क्विज मास्टर श्री हितेश केसवानी ने किया। प्रतिभागी टीमों ने बिजली की गति से पूछे गये प्रश्नों का जवाब देकर न सिर्फ अपनी हाजिरजवाबी का प्रदर्शन किया अपितु पर्यावरण के प्रति अपनी संजीदगी को भी रेखांकित किया। यह प्रतियोगिता तीन चरणों में सम्पन्न हुई एवं प्रत्येक राउण्ड में छात्रों की प्रतिभा व ज्ञान देखते ही बनता था।

            सायंकालीन सत्र में आई.ई.ओ.-2021 पुरस्कार वितरण समारोह के साथ सम्पन्न हो गया। इस अवसर पर देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों को आॅनलाइन सम्मानित किया गया। समापन समारोह में प्रतिभागी छात्रों को सम्बोधित करते हुए सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी एवं सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने सभी प्रतिभागी छात्रों को पर्यावरण संरक्षण एवं समाज की सेवा हेतु प्रेरित किया। ओलम्पियाड की संयोजिका व सी.एम.एस. गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) की वरिष्ठ प्रधानाचार्या सुश्री मंजीत बत्रा एवं आई.ई.ओ.-2019 की सह-संयोजिका एवं सी.एम.एस. गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) की प्रधानाचार्या श्रीमती संगीता बनर्जी ने भी देश-विदेश के सभी प्रतिभागी छात्रों व शिक्षकों  का आभार व्यक्त करते हुए विश्वास व्यक्त किया कि इस ओलम्पियाड के माध्यम सी.एम.एस. ने पर्यावरण संवर्धन की जो मशाल जलाई है, उसकी रोशनी सारे विश्व में अवश्य फैलेगी।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

Facebook

To Top