अन्तर्राष्ट्रीय अंग्रेजी भाषा महोत्सव ‘मीलेन्ज-2021’ का भव्य समापन

अन्तर्राष्ट्रीय अंग्रेजी भाषा महोत्सव ‘मीलेन्ज-2021’ का भव्य समापन

अन्तर्राष्ट्रीय अंग्रेजी भाषा महोत्सव ‘मीलेन्ज-2021’ का भव्य समापन

Photo

लखनऊ, 27 फरवरी: सिटी मोन्टेसरी स्कूल, स्टेशन रोड कैम्पस द्वारा आॅनलाइन आयोजित किये जा रहे तीन दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय अंग्रेजी भाषा महोत्सव ‘मीलेन्ज-2021’ का आज रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रमों के बीच भव्य समापन हुआ। इस अवसर पर देश-विदेश के प्रतिभागी विजयी छात्रों को सम्मानित किया गया। इस अन्तर्राष्ट्रीय शैक्षिक महोत्सव में रूस, जर्मनी, कैनडा, श्रीलंका, नेपाल एवं भारत के विभिन्न राज्यों के मेधावी छात्रों ने गेस द गुड वर्ड, टेल-ए-टेल, मोनोएक्ट इन थिएटर, टर्नकोट इन पोएम एवं जस्ट-ए-मिनट आदि बेहद रोचक व ज्ञानवर्धक प्रतियोगिताओं में अपनी अभूतपूर्व प्रतिभा का परचम लहराया।

            मीलेन्ज-2021 के अन्तर्गत आयोजित गेस द गुड वर्ड प्रतियोगिता का प्रथम पुरस्कार सी.एम.एस. गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) की सान्वी देव को मिला जबकि टेल-ए-टेल प्रतियोगिता का प्रथम पुरस्कार सी.एम.एस. राजेन्द्र नगर (प्रथम कैम्पस) के अथर्व मिश्रा एवं सी.एम.एस. अलीगंज (प्रथम कैम्पस) के अर्चित श्रीवास्तव को मिला। इसी प्रकार, मोनोएक्ट इन थिएटर प्रतियोगिता का प्रथम पुरस्कार सी.एम.एस. चैक कैम्पस की नव्या गुप्ता को, टर्नकोट इन पोएम प्रतियोगिता का प्रथम पुरस्कार सी.एम.एस. राजेन्द्र नगर (प्रथम कैम्पस) की अग्रिनी शाह को एवं जस्ट-ए-मिनट प्रतियोगिता का प्रथम पुरस्कार सी.एम.एस. आर.डी.एस.ओ. कैम्पस की तनुश्री वाष्र्णेय एवं सी.एम.एस. चैक कैम्पस की मुज्तबा अली खान को मिला।

            पुरस्कार वितरण व समापन समारोह में देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों को आशीर्वाद देते हुए सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने कहा कि अब समय आ गया है कि छात्र शक्ति मिलकर पूरे विश्व को एकता के सूत्र में पिरायें क्योंकि आदर्श समाज की स्थापना का सारा दारोमदार अब इन्हीं होनहार कंधो पर है। डा. गाँधी ने विश्वास व्यक्त किया कि यह महोत्सव भावी पीढ़ी की बहुमुखी प्रतिभा के विकास के साथ ही उनमें मानवीय एवं आध्यात्मिक दृष्टिकोण को विकसित करने में सफल हुआ है। ‘मीलेन्ज-2021’ की संयोजिका एवं सी.एम.एस. स्टेशन रोड कैम्पस की प्रधानाचार्या श्रीमती वीरा हजेला ने देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों को आशीर्वाद देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।

            सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि मीलेन्ज-2021 के तीसरे व अन्तिम दिन आज रूस, जर्मनी, कैनडा, श्रीलंका, नेपाल एवं भारत के विभिन्न राज्यों के मेधावी छात्रों ने कविता पाठ एवं भाषण प्रतियोगिताओं में रचनात्मक सोच एवं अभिव्यक्ति क्षमता का जोरदार प्रदर्शन कर गागर में सागर भर दिया। आज प्रतियोगिताओं का सिलसिला टर्नकोट इन पोएम प्रतियोगिता से हुआ। इस प्रतियोगिता में देश-विदेश के प्रतिभागी छात्रों ने विश्व के महानतमक साहित्यकारों की रचनाओं को बड़े ही अनूठे अंदाज में प्रस्तुत कर खूब वाहवाही लूटी। प्रत्येक प्रतिभागी छात्र ने दो अलग-अलग विषयों पर आधारित रचनाओं को वैसे ही हाव-भाव के साथ धाराप्रवाह अंदाज में सुनाया। इसके अलावा, ‘जस्ट-ए-मिनट’ प्रतियोगिता भी आकर्षण का केन्द्र रही। इस प्रतियोगिता में छात्रों ने आॅन-द-स्पाट दिये गये विषय पर एक मिनट के समय में अपने विचार व्यक्त किये। प्रतिभागी छात्रों के सारगर्भित विचारों को सुनकर दर्शकों समेत निर्णायक मंडल के सदस्य दंग रह गये। छात्रों को उनके मौलिक विचारों, अभिव्यक्ति क्षमता, आत्मविश्वास एवं धाराप्रवाह अंदाज एवं उच्चारण के आधार पर अंक दिये गये। श्री शर्मा ने कहा कि हालांकि मीलेन्ज-2021 आज सम्पन्न हो गया है परन्तु इस महोत्सव के माध्यम से भावी पीढ़ी ने अपने ज्ञान-विज्ञान व विश्वव्यापी दृष्टिकोण का सुखद अहसास कराया है। यही भावी पीढ़ी आगे चलकर समाज के नवनिर्माण की जिम्मेदारी बखूबी संभालेगी।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top