शिक्षा

वैज्ञानिक ज्ञान व कलात्मक प्रतिभा का अद्भुद नजारा दिखा कोफास-2018 में

वैज्ञानिक ज्ञान व कलात्मक प्रतिभा का अद्भुद नजारा दिखा कोफास-2018 में

वैज्ञानिक ज्ञान व कलात्मक प्रतिभा का अद्भुद नजारा दिखा कोफास-2018 में

Photo

लखनऊ, 2 नवम्बर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, राजेन्द्र नगर (तृतीय कैम्पस) द्वारा आयोजित चार दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय कम्प्यूटर ओलम्पियाड ‘कोफास-2018’ का तीसरा दिन प्रतियोगिताओं की सुन्दर लड़ी में पिरोया गया। जहाँ एक ओर नेपाल, जार्डन व देश के कोने-कोने से पधारे छात्रों ने रेन्डीशन (पेपर प्रजेन्टेशन), ई-कोलाज, जिव-कान्कर्स (कम्प्यूटर क्विज), टीनोवेशन्स (साइंस माडल), कोफास डूडल एवं कॉस्टेक (कोरियोग्राफी) आदि प्रतियोगिताओं में अपने कम्प्यूटर ज्ञान का परचम लहराया, साथ ही कलात्मक प्रतिभा का जोरदार प्रदर्शन भी किया। कुल मिलाकर कोफास-2018 का तीसरा दिन विज्ञान एवं कला के अद्भुद समन्वय से ओतप्रोत रहा और देश-विदेश  से पधारे बाल वैज्ञानिकों ने अपनी बहुमुखी प्रतिभा से सभी का दिल जीत लिया।

 ‘कोफास-2018’ के तीसरे दिन प्रतियोगिताओं का सिलसिला रेन्डीशन (पेपर प्रजेन्टेशन) प्रतियोगिता से हुआ जिसमें देश-विदेश की प्रतिभागी टीमों ने ‘सोशल मीडिया मैनीपुलेट्स ऑवर इमोशन्स’ विषय पर अपनी प्रस्तुतियों के माध्यम से बेहद सारगर्भित विचार प्रस्तुत किए। प्रतिभागियों ने बताया कि किस प्रकार फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्सअप आदि विभिन्न सोशल मीडिया हमारे सामाजिक संतुलन को प्रभावित कर रहे हैं। साईबर बुलिंग के कारण आत्महत्या का प्रतिशत दुनिया भर में पचास प्रतिशत तक बढ़ गया है, साथ ही यह बच्चों में अवसाद उत्पन्न करने का कारण भी बन रहा है। वास्तव में, सोशल मीडिया में गुण व दोष दोनों ही समाहित हैं। यदि इन्हें सावधानी पूर्वक, सोच-विचारकर एवं उचित ढंग से इस्तेमाल किया जाये तो इसके लाभ हमें मिलेंगे परन्तु इसके बेतरतीब उपयोग से बहुत हानिया भी हैं। इसी प्रकार ई-कोलाज प्रतियोगिता हेतु छात्रों में खास उत्साह रहा। इस प्रतियोगिता में छात्रों ने कम्प्यूटर पर तरह-तरह के कोलाज बनाकर उन्हें बहुत ही प्रभावी टाइटल एवं कैम्शन से सजाया। इस प्रतियोगिता में छात्रों का कम्प्यूटर ज्ञान, रचनात्मकता व कलात्मक प्रतिभा देखते ही बनती थी। इसके अलावा आज प्रातःकालीन सत्र में सीनियर वर्ग के लिए जिव-कान्कर्स (कम्प्यूटर क्विज) प्रतियोगिता का लिखित राउण्ड सम्पन्न हुआ। लिखित राउण्ड में चयनित होने वाली टीमें फाइनल राउण्ड में प्रतिभाग करेंगी।

टीनोवेशन्स (साइंस माडल) प्रतियोगिता आज प्रातःकालीन सत्र में सभी के आकर्षण का केन्द्र रही, जिसमें प्रतिभागी छात्रों ने बेकार पड़े कम्प्यूटर के अनुपयोगी सामानों से बेहद शानदार व उपयोगी माडल्स बनाकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। यह प्रतियोगिता ‘ट्रान्सफार्मिंग कम्प्यूटर जंक इनटू गुड यूज’ विषय पर आयोजित हुई, जिसमें देश-विदेश की 22 टीमों ने प्रतिभाग किया। इसी प्रकार जूनियर वर्ग के लिए आयोजित ‘कोफास डूडल प्रतियोगिता’ में भी प्रतिभागी छात्रों ने कोफास लोगो पर आधारित सुन्दर-सुन्दर डूडल बनाये। इस प्रतियोगिता में छात्रों की रचनात्मक सोच, सृजनात्मक व कलात्मक क्षमता व कम्प्यूटर ज्ञान को परखा गया। अपरान्हः सत्र में आयोजित कॉस्टेक (कोरियोग्राफी) प्रतियोगिता सभी के आकर्षण का केन्द्र रही, जिसमें छात्रों ने अपनी अभिनय क्षमता व कलात्मक प्रतिभा का नजारा प्रस्तुत किया। प्रतियोगिता का विषय था ‘मशीन्स आर नॉट जस्ट पॉवरफुल टूल्स बट क्लोज कम्पेनियन’। 

सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि चार दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय कम्प्यूटर  ओलम्पियाड ‘कोफास-2018’ अब अपने अत्यन्त सफल समापन की ओर बढ़ रहा है। कल, 3 नवम्बर को यह ओलम्पियाड अपनी सम्पूर्ण भव्यता के साथ सम्पन्न हो जायेगा। इससे पहले कल के प्रातःकालीन सत्र में क्विज प्रतियोगिता का फाइनल राउण्ड आयोजित किया जायेगा तथापि अपरान्हः सत्र में आयोजित ‘पुरस्कार वितरण एवं समापन समारोह’ में देश-विदेश के विजेता छात्रों को सार्टिफिकेट, मैडल आदि आकर्षक पुरस्कारों से पुरष्कृत कर सम्मानित किया जायेगा।

इस अवसर पर सी.एम.एस. छात्र देश-विदेश की प्रतिभागी छात्र टीमों व उनके टीम लीडरों के सम्मान में रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगे।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top