समाचारराष्ट्रीयराज्यउत्तर प्रदेश

वन नेशन वन राशनकार्ड योजना के तहत 01 मई से प्रारम्भ हुई राष्ट्रीय राशन पोर्टबिलिटी, प्रदेशवासी अन्य 16 राज्यों से भी प्राप्त कर सकेंगे खाद्यान्न

वन नेशन वन राशनकार्ड योजना के तहत 01 मई से प्रारम्भ हुई राष्ट्रीय राशन पोर्टबिलिटी, प्रदेशवासी अन्य 16 राज्यों से भी प्राप्त कर सकेंगे खाद्यान्न

वन नेशन वन राशनकार्ड योजना के तहत 01 मई से प्रारम्भ हुई राष्ट्रीय राशन पोर्टबिलिटी, प्रदेशवासी अन्य 16 राज्यों से भी प्राप्त कर सकेंगे खाद्यान्न

Photo

वन नेशन वन राशनकार्ड योजना के तहत 01 मई से प्रारम्भ हुई राष्ट्रीय राशन पोर्टबिलिटी, प्रदेशवासी अन्य 16 राज्यों से भी प्राप्त कर सकेंगे खाद्यान्न।

बहराइच। जिलाधिकारी शम्भु कुमार ने बताया कि खाद्य एवं रसद विभाग द्वारा कोविड-19 (कोरोना वायरस) महामारी की विषम परिस्थितियों में लाॅकडाउन से प्रभावित श्रमिकों, दैनिक मज़दूरों तथा अन्य राज्यों में प्रवासी उत्तर प्रदेश के निवासियों की विशेष सुविधा हेतु भारत सरकार की ‘‘वन नेशन वन राशनकार्ड’’ योजना के तहत राष्ट्रीय राशन पोर्टबिलिटी की शुरूआत 01 मई 2020 से की गयी है।

जिलाधिकारी शम्भु कुमार ने बताया कि इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश का कोई लाभार्थी अन्य 16 राज्यों ( आंध्र प्रदेश , गोवा, गुजरात, हरियाणा, झारखण्ड, केरल, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, तेलंगाना, त्रिपुरा, बिहार, पंजाब, हिमाचल प्रदेश तथा केन्द्र शासित प्रदेश दादर नगर हवेली) से भी खाद्यान्न प्राप्त कर सकता है। इस प्रकार उक्त 16 राज्यों के लाभार्थी उत्तर प्रदेश से भी खाद्यान्न प्राप्त कर सकते हैं। राष्ट्रीय राशन पोर्टबिलिटी की सुविधा आधार प्रमाणीकरण प्रक्रिया के द्वारा ही सम्पन्न होगी।

जिला पूर्ति अधिकारी अनन्त प्रताप सिंह ने जानकारी दी है कि कोविड-19 की विषम परिस्थितियों को ध्यान में रखकर अब तक लगभग 9311 नये राशनकार्ड जारी किये गये हैं ताकि कोई भी पात्र व्यक्ति राशन पाने से वंचित न रहे। साथ ही दिव्यांगजन/निःशक्तजन तथा हाॅटस्पाॅट में पूर्णतः लाॅकडाउन की स्थिति में राशन वितरण का कार्य होम डिलिवरी के माध्यम से किया जा रहा है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top