राष्ट्रीय

Paytm मामला, इस तरह बॉस को ब्‍लैकमेल करती थी पर्सनल सेक्रेटरी सोनिया

Paytm मामला, इस तरह बॉस को ब्‍लैकमेल करती थी पर्सनल सेक्रेटरी सोनिया

Paytm मामला, इस तरह बॉस को ब्‍लैकमेल करती थी पर्सनल सेक्रेटरी सोनिया

Photo

नोएडा। आज के समय में पैसे कमाने की होड़ की वजह से अब रिश्‍ते और भरोसे की कोई अहमियत नहीं बची है। एक ऐसा ही मामले ने PayTM कंपनी के मालिक विजय शेखर शर्मा और उनके भाई अजय शेखर की निजी सचिव सोनिया धवन ने यह साबित कर दिया। उसे जल्‍दी अमीर बनने और खुद का कारोबार खोलने का लालच ऐसा जागा कि उसने 7-8 साल पुरानी वफादारी को भुला दी। सोनिया ने विजय शेखर शर्मा और उनके भाई को ब्‍लैकमेल करना शुरू कर दिया। इसके एवज में 20 करोड़ रुपए की मांग रखी। पुलिस ने सोनिया समेत 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। एक आरोपी फरार बताया जा रहा है।

क्‍या है पूरा मामला -

PayTM के मालिक विजय शेखर ने बताया कि फिरौती का पहला फोन उनके भाई अजय शर्मा को आया था, जो PayTM के वाइस प्रेजिडेंट हैं। अजय ने फिरौती देने से इनकार कर दिया। और इसके बाद विजय के पास फोन आया। फोन करने वाले ने अपना नाम रोहित चोपाल बताया। उसका कहना था कि उसके पास विजय की पर्सनल और प्रफेशनल लाइफ से जुड़ी कुछ जानकारियां हैं। ये डेटा लीक न करने के एवज में ब्लैकमेलर ने पहले तो 10 करोड़ रुपये मांगे। फिर रकम बढ़ाकर 20 करोड़ कर दी। विजय ने ऑनलाइन ट्रान्जेक्शन करके रोहित को दो लाख रुपये भेज भी दिए।

थाईलैंड के नंबर से किया फोन -

विजय के पास फोन थाईलैंड सी आया था जिसे विजय ने पूरी बातचीत रिकॉर्ड कर ली और पूरे सबूत पुलिस को दे दिए। पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद PayTM में काम करने वाले दो कर्मचारियों और एक प्रॉपर्टी डीलर को गिरफ्तार कर लिया है। SSP अजय पाल शर्मा ने बताया कि PayTM के CEO विजय शेखर के भाई अजय शेखर शर्मा की ओर से पुलिस में शिकायत दी गई थी कि कंपनी के कुछ कर्मचारियों ने डेटा चोरी किया है और वे उसे सार्वजनिक न करने के एवज में पैसे की मांग कर रहे हैं। इसकी जांच की गई उसके बाद इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार किए गए लोगों में एक कंपनी का कर्मचारी देवेंद्र है और दूसरा सोनिया का पति रुपक जैन है। रोहित फरार बताया जा रहा है।


दो लाख देने के बाद विजय शेखर ने ब्‍लैकमेलर को ही फुसला कर पूछ ली सारे प्लानिंग -

विजय ने ऑनलाइन ट्रान्जेक्शन करके रोहित को दो लाख रुपये भेज दिए। फिर उसे फुसलाकर कहा कि अगर वो ये बता दे कि उसे डेटा कैसे मिला, तो बाकी पैसा भी दे देंगे। तब जाकर ब्लैकमेलर ने सोनिया और उसके पार्टनर्स के बारे में बताया। पुलिस का कहना है कि तीनों आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल भी कर लिया है। चौथा आरोपी पश्चिम बंगाल में छुपा हो सकता है। उसे पकड़ने के लिए नोएडा पुलिस वहां की पुलिस के साथ कॉर्डिनेट कर रही है।

किस तरह मामूली कर्मचारी से Paytm में बड़े पोस्‍ट पर पहुंची सोनिया -

सोनिया धवन कभी एक अखबार में साधारण कर्मचारी हुआ करती थी, लेकिन PayTM पहुंचते ही उसकी किस्मत बदल गई और वह 8 वर्ष की छोटी सी अवधि में कंपनी की उपाध्यक्ष पद पर पहुंच गई। बताया जाता है कि सोनिया धवन विजय शेखर से जुड़ने से पहले अंग्रेजी अखबार समूह में बिजनेस ऑपरेशन मैनेजर के पद पर थी। इसी दौरान वह PayTM One 97 कम्यूनिकेशन लिमिटेड के मालिक विजय शेखर शर्मा के संपर्क में आई। इसके बाद वह कंपनी में सेकेंडरी मीडिया कांट्रेक्ट के पद पर पेटीएम से जुडी।

paytm sonia dhawan

सारे बिजनेस डील में जाती थी सोनिया धवन -

विजय शेखर शर्मा की सभी बिजनेस डील में सोनिया धवन जाया करती थी। आए दिन वह सिंगापुर, हांगकांग व बेंगलुरु का ट्रिप करती थीं। चीन की सबसे बड़ी कंपनी अलीबाबा को PayTM के संपर्क में लाने में सोनिया धवन की अहम भूमिका बताई जाती थी। सोनिया को मीडिया की सुर्खियों में बने रहने का उसको बहुत शौक था। यही वजह है कि मीडिया में प्रत्येक खबर के प्रकाशन भी उसकी अनुमति के बिना नहीं होता था।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top