राष्ट्रीय

किसान कर्जमाफी को लेकर बोले जावड़ेकर, कांग्रेस के लिए वादा करना और फिर मुकर जाना कोई नई बात नहीं है

 किसान कर्जमाफी को लेकर बोले जावड़ेकर, कांग्रेस के लिए वादा करना और फिर मुकर जाना कोई नई बात नहीं है

किसान कर्जमाफी को लेकर बोले जावड़ेकर, कांग्रेस के लिए वादा करना और फिर मुकर जाना कोई नई बात नहीं है

Photo

पंजाब और कर्नाटक में कांग्रेस सरकारों द्वारा की गई कर्जमाफी को लेकर  बीजेपी सवाल खड़े कर रही है। भाजपा ने कांग्रेस पर किसानों पर किसान कर्जमाफी से पीछे हटने का आरोप लगाते हुए कहा है कि अब तो दोनों राज्यों के किसानों को नोटिस आने लगे हैं।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आरोप लगाया कि कांग्रेस के लिए वादा करना और फिर उससे मुकर जाना नई बात नहीं रह गई है। पंजाब, कर्नाटक के बाद अब मध्यप्रदेश और छतीसगढ़ में कांग्रेस ने वादा किया है। कर्नाटक में वहां की सरकार ने 45 हजार करोड़ रुपये की कर्जमाफी की बात की थी, लेकिन वो भी खोखली साबित हुई। उन्होंने कहा कि पिछले 6 महीने में कर्नाटक में 397 किसानों ने आत्महत्या की। ये कांग्रेस का ट्रैक रिकॉर्ड है। 

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि पंजाब और कर्नाटक के किसानों का कर्ज माफ तो हुआ नहीं, उलटा किसानों को बैंकों की तरफ से नोटिस दिए जा रहे हैं, उनके खिलाफ मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पंजाब में भी 90 हजार करोड़ की कर्जमाफी की बात की गई थी, लेकिन वहां भी किसानों के साथ धोखा किया गया। 

जावड़ेकर ने आरोप लगाया कि 50 साल से कांग्रेस की किसान विरोधी नीति के कारण ही किसानों की दुर्दशा हुई है। किसानों को उनकी फसल का सही मूल्य नहीं दिया गया। स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें मोदी सरकार ने ही लागू की, जबकि कांग्रेस ने इस मामले में कभी कुछ नहीं किया। पांच राज्यों में किसानों को धोखा देकर वादे किए गए। जो हाल कर्नाटक और पंजाब में हुआ, वही मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भी होने वाला है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top