अंतर्राष्ट्रीय

सोशल मीडिया का इस्तेमाल से समाज में भेदभाव बढ़ता है: ओबामा

सोशल मीडिया का इस्तेमाल से समाज में भेदभाव बढ़ता है: ओबामा

सोशल मीडिया का इस्तेमाल से समाज में भेदभाव बढ़ता है: ओबामा

Photo

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि सोशल मीडिया का इस्तेमाल से समाज में भेदभाव बढ़ता है, जिसके फलस्वरूप समाज विभाजित हो जाता है। ओबामा की इस टिप्पणी को उनके परवर्ती और अमेरिका के मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की आलोचना के रूप में देखा जा रहा है, क्योंकि ट्रंप बहुधा टि्वटर का इस्तेमाल करते हैं।

ओबामा बीबीसी के रेडियो फॉर टुडे कार्यक्रम के लिए एक इंटरव्यू में ब्रिटेन के प्रिंस हैरी से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने इस बात को लेकर सावधान किया कि इंटरनेट से लोगों के पूर्वाग्रह को बल मिल रहा है और समाज बिखर रहा है। उन्होंने कहा, हमें वैसे तरीके तलाशने चाहिए, जिससे इंटरनेट पर एक कॉमन स्पेस बनाया जा सके। उन्होंने भविष्य को लेकर चिंता जाहिर की और कहा कि तथ्यों को नजरंदाज किया जा रहा है और लोग सिर्फ उन्हीं बातों को पढ़ते व सुनते हैं, जिनसे उनका अपना ही मत प्रबल होता है।

ओबामा ने कहा, इंटरनेट का सबसे बड़ा खतरा यह है कि लोग बिल्कुल अलग यथार्थ में होंगे। उनको सूचना से अलग रखा जा सकता है और उनके मौजूदा पूर्वाग्रह को मजबूत किया जा सकता है। इंटरव्यू के दौरान ओबामा ने ट्रंप का नाम नहीं लिया, लेकिन उन्होंने ट्रंप के चुनावी अभियान और बतौर राष्ट्रपति उनके प्रशासन की खासियत का जिक्र टि्वटर के मुखर प्रयोग के रूप में किया।

इस इंटरव्यू के दौरान ओबामा से जब यह पूछा गया कि राष्ट्रपति के रूप में कार्यकाल समाप्त होने पर कार्यालय छोड़ने के दिन वह कैसा महसूस कर रहे थे? तो उन्होंने मिला-जुला भाव जाहिर किया। ओबामा ने कहा, एक समाप्ति का बोध था कि हमने इस तरीके से काम किया था, जिससे निष्ठा बनी हुई थी और हम मौलिक रूप से नहीं बदले थे। इसलिए मुझे संतोष का अनुभव हो रहा था। ओबामा ने अमेरिका की पूर्व प्रथम महिला मिशेल ओबामा को प्रभावशाली, विनोदी और स्नेही बताया, जिन्होंने राजनीतिक अभिरुचि नहीं होते हुए भी उन्हें भरपूर सहयोग दिया।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

Facebook

To Top