राज्यउत्तर प्रदेशहलचलमुद्दा

पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों में हो रही ऐतिहासिक वृद्धि के विरोध में सुभासपा के कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों में हो रही ऐतिहासिक वृद्धि के विरोध में सुभासपा के कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों में हो रही ऐतिहासिक वृद्धि के विरोध में सुभासपा के कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन

Photo

पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों में हो रही ऐतिहासिक वृद्धि के विरोध में सुभासपा के कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन। 

पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों में हो रही ऐतिहासिक वृद्धि एवं भाजपा सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मंत्री, उत्तर-प्रदेश सरकार ओमप्रकाश राजभर के आवाहन पर रसड़ा क्षेत्र के परसिया, पचवार, नवादा, इत्यादि ग्राम सभाओं में जावेद अंसारी "जाम" प्रदेश महासचिव युवा मोर्चा सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के नेतृत्व में  भागीदारी संकल्प मोर्चा के पदाधिकारीगण केंद्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ उत्तर प्रदेश के 75 जिलों के समस्त गांवों में हल्ला बोल धरना प्रदर्शन सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करते हुए किया गया।

डीजल का मूल्य पेट्रोल से भी ज्यादा -

यह प्रदर्शन सभी जनपदों के चिन्हित सौ-सौ गांव में किया गया। सुभासपा के प्रदेश महासचिव जावेद अंसारी जाम ने अपने वक्तब्य मे कहा कि सबका साथ सबका विकास , बेटी बचाओ - बेटी पढ़ाओ, और जीरो टॉलरेंस का झूठा वादा करने वाली भाजपा सरकार की कथनी और करनी आज आम जनमानस के बीच में उजागर हो गया है। सरकार गरीबों का वोट लेकर सिर्फ अमीरों के हित के लिए काम कर रही है। देवरिया के शर्मनाक घटना के बाद  कानपुर के राजकीय बाल सुरक्षा गृह की घटना ने सरकार  के बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की सच्चाई को उजागर करने का काम किया है।  69000 सहायक शिक्षक भर्ती घोटाला, अनामिका शुक्ला, ममता राय, प्रीति यादव फर्जी सामूहिक नियुक्ति प्रकरण तथा पशुपालन विभाग में 9 करोड़ की ठगी का मामला यह सारी घटनाएं सरकार के जीरो टॉलरेंस की असलियत बयान करती है।
73 साल में पहली दफा ऐसा हुआ है इस भाजपा के सरकार में डीजल का मूल्य पेट्रोल से भी ज्यादा हो गया है।

उन्होंने आगे अपने वक्तव्य में कहा कि उत्तर प्रदेश सबसे महंगा विद्युत आपूर्ति का प्रदेश बन गया है फर्जी बिल एवं विभाग द्वारा जबरन वसूली का मामला आए दिन सुर्खियों में रहता है। उत्तर-प्रदेश में पिछड़ों, दलितों, अल्पसंख्यकों के विरुद्ध घटनाओं की बाढ़ सी आ गई है। दर्जनों हत्या आगजनी तथा 300 से ज्यादा गंभीर मारपीट के प्रकरण में सरकार के इशारे पर प्रशासन उल्टे पीड़ित पक्ष को डरा धमका कर मुकदमों में फंसाकर सच्चाई तथा गरीबों के आवाज को दबाने का काम कर रही है, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (भागीदारी संकल्प मोर्चा) कभी भी इनकी आवाज़ दबने नही देगी । केंद्र सरकार एवं प्रदेश सरकार के सभी मंत्री-गण इस समय वर्चुअल रैली करने में व्यस्त हैं और जनता महंगाई की मार झेल रही है।

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (भागीदारी संकल्प मोर्चा) द्वारा केन्द्र व प्रदेश  सरकार की जन विरोधी नीतियों, डीजल-पेट्रोल की कीमतो में बढोत्तरी को वापस लेने एवं आरक्षण में छेड़-छाड़ के विरूद्ध 10 सूत्रीय ज्ञापन-

1. पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से मंहगाई बढे़गी। इस लिए पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमत तत्काल वापस ली जाए।

2. संविधान एवं विधि सम्मत आरक्षण में किसी प्रकार का छेड़-छाड़ न किया जाए और मेडिकल में भी आरक्षण प्रदान किया जाए, जबकि वर्तमान सरकार द्वारा मेडिकल में आरक्षण शून्य कर दिया गया है।

3. पिछड़ों, दलितोें अल्पसंख्यकों की हत्याओं एवं उत्पीड़न को तत्काल रोका जाए।

4. बेरोजगार नवयुवकों को रोजगार उपलब्ध कराया जाए।

5. किसानों को खाद, बीज व कीटनाशक दवायें उचित मूल्य पर उपलब्ध कराया जाए।

6. किसानों को उनकी उपज का समर्थन मूल्य दिलाना सुनिश्चित किया जाए।

7. छोटे व मझलें किसानों, दुकानदारों/व्यापारियों का कर्ज बिजली का बिल माफ किया जाए।

8. लाॅकडाउन के कारण गरीब किसानों व मजदूरों की आर्थिक स्थिति अत्यन्त खराब हो गयी है। इसलिए हमारी मांग है कि उनके बच्चों से अप्रैल, मई व जून की स्कूल फीस की प्रतिपूर्ति सरकार द्वारा किया जाए।
 
9. वर्तमान सरकार में आज भी आवारा पशु घूमा करते है। गौशालाओं की व्यवस्था सही नहीं है। किसानों को इससे बड़ी क्षति हो रही है। अतः आवारा पशुओं के रख रखाव का समुचित ढ़ंग से व्यवस्था की जाए।

10. किसानों के गन्ने के मूल्य का भुगतान तत्काल किया जाए।

उत्तर-प्रदेश के महामहिम राज्यपाल महोदया के नाम से हर जिले के चिन्हित धरना वाले गांवों से महामहिम राज्यपाल महोदया ईमेल तथा समस्त जिलाधिकारियों के ईमेल के जरिए भेज कर सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराया है। और जनहित के इन अहम मुद्दों पर सरकार के रहनुमाओं के सामने अपना रुख स्पष्ट किया है। 

इस अवसर पर जनता क्रांति पार्टी के जंग बहादुर चौहान, राष्ट्र उदय पार्टी के रामनिवास पाल, अवधेश राजभर, राजेश राजभर, बृजेश गोंड, अशोक कन्नौजिया, गिरीश राजभर, राम बरत राजभर, गणेश राजभर,  ज्ञानचंद्र राजभर, सूखन राजभर, मोती चन्द्र कन्नौजिया, रमाकांत राजभर, दीपक भारद्वाज इत्यादि लोग उपस्थित रहें।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

Facebook

To Top