उत्तर प्रदेश

मोहम्मद साहब ने इरशाद फरमाया है कि औरत छुपाने की चीज है: दारुल उलूम देवबंद

मोहम्मद साहब ने इरशाद फरमाया है कि औरत छुपाने की चीज है: दारुल उलूम  देवबंद

मोहम्मद साहब ने इरशाद फरमाया है कि औरत छुपाने की चीज है: दारुल उलूम देवबंद

Photo

उत्तर प्रदेश में सहारनपुर जिले से दारुल उलूम देवबंद ने फतवा जारी किया है। फतवे में कहा गया है कि डिजाइनर बुर्का या लिबास पहनकर महिलाओं का घर के बाहर निकलना जायज नहीं है। साथ ही यह भी कहा कि मोहम्मद साहब ने इरशाद फरमाया है कि औरत छुपाने की चीज है क्योंकि जब कोई औरत बाहर निकलती है तो शैतान उसे घूरता है। इसलिए बिना जरूरत औरत को घर से नहीं निकलना चाहिए। फतवे में कहा गया कि मुस्लिम महिलाएं सिर्फ जरूरत पर ही घर से निकले। घर से निकलते समय वे जिस्म को इस तरह छुपाए कि उसके आजा (शरीर के अंग) जाहिर न हों। उन्हें ढीला लिबास पहन कर ही बाहर निकलना चाहिए। तंग व चुस्त लिबास या बुर्का पहन कर निकलना और इस तरह लोगों को अपनी ओर आकर्षित करना गुनाह है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top