होम मोदी बनाम केजरीवाल – समझो ग्रहों का ईशारा

मोदी बनाम केजरीवाल – समझो ग्रहों का ईशारा

मोदी बनाम केजरीवाल – समझो ग्रहों का ईशारा

मोदी बनाम केजरीवाल – समझो ग्रहों का ईशारा

Photo

2015 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल खासे चर्चित रहे। एक को देश तो दूसरे को दिल्ली की सत्ता संभालने का मौका मिला लेकिन दोनों की ही जनता के बीच जमीनी स्तर पर कुछ काम कर पाने की इच्छाशक्ति पर संदेह भी पैदा हुआ। नरेंद्र मोदी की घोषणाओं को जुमला माना जाने लगा तो, केजरीवाल केंद्र सरकार के हस्तक्षेप को काम न कर पाने की बड़ी वजह बताते रहे। नतीजन दोनों की लोकप्रियता में कुछ कमी आई लेकिन लोगों के बीच दोनों का जादू अब भी बरकार है।2016 में क्या दोनों के बीच चल रहे आरोप-प्रत्यारोप का दौर थमकर कुछ काम-काज होगा ? क्या दोनों अपनी घोषणाओं को अमलीजामा पहना पांएगें ? ग्रहों के इस बारे में क्या संकेत हैं ? आइए एक नजर डालते हैं, देखते हैं क्या कहते हैं दोनों के सितारे ?

नाम -  नरेंद्र दामोदरदास मोदी

जन्म तिथि17 सितंबर 1950

जन्म स्थानमेहसाणा गुजरात  

जन्म समय प्रात11:00 बजे

लग्न-वृश्चिकचन्द्र राशि- वृश्चिक, नक्षत्र- अनुराधामहादशा- चंद्रमाअंतरदशा- बृहस्पति 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर इस समय चंद्रमा की महादशा चल रही है जिससे उनकी लोकप्रियता और भी बढ़ने के आसार हैं। 2016 में नरेंद्र मोदी कुछ ऐसे निर्णय ले सकते हैं, जो लोगों के लिए काफी लाभकारी सिद्ध हों। चंद्रमा की महादशा में अंतर्दशा फिलहाल बृहस्पति की है लेकिन 28 फरवरी से अंतर्दशा में शनि आ जाएगें जो कि उनके लिए कठिन व निर्णायक समय हो सकता है। उन्होंनें जो कार्य किए हैं उनके परिणाम सकारात्मक व नकारत्मक रुप में मिलने शुरु होंगें। लेकिन अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर नरेंद्र मोदी की प्रतिष्ठा और बढ़ेगी जिससे भारत को काफी फायदा होगा। हो सकता नरेंद्र मोदी भारत को संयुक्त राष्ट्र संघ की स्थायी सदस्यता दिलाने में भी कामयाब हों। नरेंद्र मोदी द्वारा लिये गये कुछ निर्णयों की काफी आलोचना भी हो सकती है, लेकिन ग्रहों का योग उनके पक्ष में है, जिस कारण तमाम हालातों से पार पाना उनके लिए मुश्किल नहीं होगा।

नाम -अरविंद केजरीवाल

जन्म तिथि -16 अगस्त 1968

जन्म स्थान –हिसार

जन्म समय -23:46:00

लग्न-वृषभ, चंद्र राशि-वृषभ, नक्षत्र-कृतिका, महादशा-बृहस्पति, अंतर्दशा-चंद्रमा, योगिनी महादशा में संकटा की दशा है जो 2020 तक चलेगी इसकी अंतर्दशा भ्रामरी है।

वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की बात की जाए तो उनकी राशि वृषभ है एवं नक्षत्र कृतिका, राशि स्वामी शुक्र एवं नक्षत्र स्वामी सूर्य है इस समय केजरीवाल पर गुरु की महादशा चल रही है जिसमें अंतर्दशा में चंद्रमा है जो लगभग पूरा साल रहेगा। बृहस्पति केजरीवाल के लिए गजकेसरी योग बना रहा है जिसका लाभ केजरीवाल को मिलता रहेगा। लेकिन गोचर अवस्था का राहु इनकी कुंडली के अनुसार पब्लिक के घर में आ रहा है जिससे इनकी लोकप्रियता कुछ कम होने के आसार हैं जबकि इनका पारिवारिक जीवन बहुत ही अच्छा रहेगा। केजरीवाल के राजनीतिक जीवन में उतार-चढाव हो सकते हैं। अपनी ही पार्टी में विवादों के बढ़ने की संभावनाएं हैं, हालांकि इस साल कोई बड़ी हानि होने की संभावना नहीं है। इनके निर्णयों से जनता को लाभ मिलने की संभावना है लेकिन जल्दबाजी में लिए गए कुछ निर्णयों से हानि भी होगी। इनकी कुंडली में शनि उत्तम ग्रह है जिसका लाभ भी है और हानि भी।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर चूंकि चंद्रमा की दशा है और चंद्रमा अपनी उच्च राशि वृषभ को देखता है, जो कि केजरीवाल की राशि है। अगर दोनों तालमेल करके चलें, तो यह जनता के लिए बहुत ही लाभकारी हो सकता है। अन्यथा यही विकास कार्यों में बाधक भी साबित होगा जिससे दोनों की लोकप्रियता पर विपरीत प्रभाव पड़ेगा।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top