हक़ीक़त

इस वजह से केशव मौर्य बन सकेंगे CM

इस वजह से केशव मौर्य बन सकेंगे CM

इस वजह से केशव मौर्य बन सकेंगे CM

Photo

लखनऊ. UP विधानसभा चुनाव में BJP को मिले स्पष्ट जनाधार के बाद यह चर्चा तेज हो गई है कि आखिर प्रदेश की कमान किसे सौंपी जाएगी। BJP में मुख्यमंत्री पद के कई दावेदारों के बीच केशव प्रसाद मौर्य का नाम सबसे आगे है। केशव प्रसाद मौर्य को मुख्यमंत्री बनाए जाने के पीछे सियासी गुणा-गणित का भी असर है। BJP ने इसके पहले दूसरे राज्यों के विधानसभा चुनावों में भी यही रणनीति अपनाई थी और नए चेहरे सामने लाए।

BJP अध्यक्ष अमित शाह लगातार इस बात के संकेत देते रहे हैं कि उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री साफ-सुथरी छवि का शख्स होगा जो प्रदेश से जुड़ा हो। पार्टी में CM पद के दावेदारों पर नजर डालें तो केशव प्रसाद मौर्य ही इन खूबियों पर फिट बैठते हैं। BJP प्रदेश की सत्ता आई है इसके पीछे भी केशव प्रसाद का बड़ा योगदान है। केशव प्रसाद को चुनाव से ठीक पहले प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया था।

BJP ने महाराष्ट्र के विधानसभा चुनाव में प्रदेश अध्यक्ष देवेंद्र फडनवीस को मुख्यमंत्री बनाया था। साफ छवि के फडनवीस संघ से भी जुड़े रहे हैं। BJP ने हमेशा से सियासी गुणा-गणित में संघ को ध्यान में रखा है। केशव मौर्य भी संघ से जुड़े रहे हैं और BJP के असरदार नेताओं में शुमार हैं। केशव मौर्य विवादों से दूर रहे हैं। प्रदेश में BJP ने जिस वोट बैंक पर नजर डाली थी केशव मौर्य उसी से आते हैं। वह पूर्वांचल से भी हैं जो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मुख्य फोकस रहा है।

BJP को प्रदेश में मिली ऐतिहासिक जीत के पीछे OBC और EBC वोटबैंक की भूमिका काफी है। BJP ने शुरुआत से ही OBC वोटबैंक पर निशाना लगाया था। केशव मौर्य खुद भी OBC से आते हैं। चुनाव से ठीक पहले उन्हें प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने के पीछे यह भी एक वजह मानी जाती है। प्रदेश में BJP के पिछले रिकॉर्ड को देखें तो पार्टी मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के समय में भी गैर-यादव OBC और आर्थिक रूप से पिछड़ों (EBC) के लिए एकमात्र विकल्प बनकर उभरी थी। BJP ने हालिया चुनाव में इस वोटबैंक पर सेंध लगाने के लिए पूरा जोर लगाया था। इससे केशव मौर्य की दावेदारी मजबूत हुई है।

मनोज सिन्हा का भी नाम -
बीजेपी में केशव प्रसाद मौर्य को मुख्यमंत्री पद का प्रबल दावेदार माना जा रहा है लेकिन और भी नेता हैं जो इस पद की रेस में हैं।

कट्टर हिंदू छवि वाले योगी आदित्यनाथ -
बीजेपी के कद्दावर नेता और गोरखपुर से सांसद योगी आदित्यनाथ के वर्चस्व से हर कोई वाकिफ है।

बीजेपी के खास रणनीतिकार दिनेश शर्मा -
लखनऊ के मेयर और बीजेपी नेता दिनेश शर्मा पार्टी के चुनिंदा चेहरों में शामिल हैं। दिनेश शर्मा को पार्टी ने लगातार बड़ी जिम्मेदारियां सौंपी हैं।

श्रीकांत शर्मा भी बेदाग छवि के नेता -
बीजेपी के राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा को भी मुख्यमंत्री पद का दावेदार माना जा रहा है। साफ छवि के श्रीकांत शर्मा ने पहली बार चुनाव लड़ा है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

Facebook

To Top