राज्यउत्तर प्रदेश

भागीदारी संकल्प मोर्चा के हाथों में होगी 2022 की सत्ता की चाभी - जावेद अंसारी जाम

भागीदारी संकल्प मोर्चा के हाथों में होगी 2022 की सत्ता की चाभी - जावेद अंसारी जाम

भागीदारी संकल्प मोर्चा के हाथों में होगी 2022 की सत्ता की चाभी - जावेद अंसारी जाम

Photo

भागीदारी संकल्प मोर्चा के हाथों होगी 2022 में सत्ता की चाभी - जावेद अंसारी जाम

आज पूरे देश में सरकार का दोहरा चरित्र साफ हो गया है। सरकार जहां एक तरफ सबका साथ  सबका विकास की बात करती है वहीं दूसरी तरफ गरीबों का साथ और अमीरों के विकास के थ्योरी पर काम कर रही है। जिसका जिवंत प्रमाण लाकडाउन के समय गरीब मजदूरों की दुर्दशा के रुप में पूरा देश ने देखा है। एक तरफ चाइना परोक्ष युद्ध करते हुए बॉर्डर पर हमारे सैनिकों को मार रहा है, वहीं दूसरी तरफ केंद्र सरकार ने अभी तक भारतीय बाजार से चाइना को प्रतिबंधित नहीं किया है। अभी भी कई बड़ी चीनी  कंपनियों को भारत में बड़े-बड़े ठेके मिले हुए हैं।

भाजपा के राज में उत्तर प्रदेश में आए दिन अतिपिछड़ों तथा दलितों के साथ जघन्य घटनाएं हो रही हैं। दर्जनों पिछड़ों, दलितों को मौत की नींद सुला दिया गया है तथा लगभग 300 से ज्यादा गरीबों के साथ गंभीर मारपीट के मामले हुए फिर भी सरकार मौन है। प्रशासनिक कार्रवाई के नाम पर उल्टे पीड़ित पक्ष को ही फंसा दिया जा रहा है।

सरकार में आए दिन बड़े-बड़े घोटाले सामने आ रहे हैं अभी हाल ही में पशुपालन विभाग उत्तर प्रदेश में बड़ा घोटाला सामने आया है जिसमें लगभग एक दर्जन लोगों पर मुकदमा कायम हुआ है। इसी तरह सरकार के लगभग पंचानवे विभाग आज घनघोर भ्रष्टाचार में लिप्त हैं।

69000 सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा में आलम यह है कि प्रयागराज के टॉपर धर्मेंद्र कुमार पटेल जिनको 150 में से 142 नंबर मिला है उनको इस देश के राष्ट्रपति का नाम मालूम नहीं है।

वही अनामिका शुक्ला प्रकरण जहां चर्चा का विषय बना हुआ है उसी प्रकार के कई और प्रकरण संज्ञान में आ रहे हैं जहां कहीं अनामिका शुक्ला के नाम से तो कहीं ममता राय के नाम से तो कहीं प्रीति यादव के नाम से दर्जनों लोग फर्जी नौकरी कर रहे हैं। ये सभी कार्य सरकार की जीरो टॉलरेंस को झूठा साबित करने के लिये काफी है।

कानपुर के सरकारी बाल संरक्षण गृह में एक सनसनीखेज खुलासा हुआ है जिसमें 57 लड़कियां कोरोना पाजिटिव पाई गई हैं उसमें दो नाबालिग लड़कियां प्रेग्नेंट हैं तथा एड्स की भी पेसेंट पाई गई है। यह है सरकार की बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ का असली सच।

सरकार की दोहरी नीतियों और दोहरे चरित्र के खिलाफ भागीदारी संकल्प मोर्चा के आवाहन पर आज प्रदेश स्तरीय विरोध प्रदर्शन दर्ज कराया गया, जिसमें उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में कार्यकर्ताओं और नेताओं ने गांव में जाकर के काली पट्टी बांधकर सोशल डिस्टन्सिंग का सम्मान करते हुए सरकार के दोहरे चरित्र एवं जन विरोधी नीतियों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी युवा मोर्चा के प्रदेशमहासचिव जावेद अंसारी जाम के नेतृत्व में किया गया। रसड़ा क्षेत्र के विभिन्न ग्राम सभा सहित जाम, बसनही, खरसड़ा , अठीलापुरा, सुल्तानपुर, परसिया में स्थानीय ग्राम सभा के जनता के साथ धरना दिया गया। सम्पूर्ण धरने का संचालन भागीदारी संकल्प मोर्चा के बैनर तले संम्पन्न हुआ।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top