होम भारत-पाक का महामुकाबला आज

खेल-संसार

भारत-पाक का महामुकाबला आज

भारत-पाक का महामुकाबला आज

भारत-पाक का महामुकाबला आज

Photo

सड़कों पर सन्नाटा, प्रशंसकों में पागलपन तक जुनून, टी.वी. स्क्रीन से चिपके लोग और माहौल में एक अजब-सी घबराहट, ऐसा ही कुछ शनिवार को एक बार फिर होगा जब भारत और पाकिस्तान क्रिकेट टीमें बंगलादेश में एशिया कप मुकाबले के लिए हाईवोल्टेज मुकाबले में आमने-सामने उतरेंगी। भारत में क्रिकेट को धर्म माना जाता है और इसे लेकर पागलपन की हद तक दीवानगी है लेकिन जब उसका मुकाबला चिर-प्रतिद्वंद्वी और पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के साथ होता हैतो यह पागलपन जुनून में तबदील हो जाता है। भारत और पाकिस्तान पिछले 2 वर्षों में मात्र तीसरी बार एक-दूसरे के खिलाफ खेलने जा रहे हैं इसीलिए इस मुकाबले को लेकर अभी से प्रशंसक काफी उत्सुक हैं।भारत पाकिस्तान के खिलाफ वर्ष 2015 में आई.सी.सी. वनडे विश्व कप में खेला था जबकि उसने ट्वंटी-20 मुकाबला पाकिस्तान के खिलाफ आखिरी बार बंगलादेश की ही जमीन पर 21 मार्च, 2014 में आई.सी.सी. ट्वंटी-20 विश्व कप में खेला था। इस मैच में भारत ने पाकिस्तान को 7 विकेट से पीटा था और इस बार फिर से टीम इंडिया इसी जीत को दोहराने के लिए उतरेगी।एशिया कप में भारतीय टीम मेजबान बंगलादेश को 45 रन से हराकर विजयी आगाज कर चुकी है और उसके हौसले काफी बुलंद हैं। वहीं पाकिस्तान टूर्नामैंट में भारत के खिलाफ अपने अभियान की शुरूआत करने जा रहा है। दुनिया की नंबर एक ट्वंटी-20 टीम भारत के पास एक संतुलित टीम है जिसमें कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जैसा रणनीतिकार है तो विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन जैसे स्टार बल्लेबाज हैं। तेज गेंदबाज आशीष नेहरा, ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह और आलराऊंडर युवराज सिंह का अनुभव टीम की जीत का मार्ग प्रशस्त करेगा तो हाॢदक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह और पवन नेगी जैसे युवा खिलाडिय़ों की आक्रामकता और जोश उसमें नई ऊर्जा व ताकत भर रही है।

धवन, रैना और युवराज को भी पाकिस्तान के खिलाफ खेलने का अच्छा अनुभव है और वे इस मुकाबले की अहमियत को भी जानते हैं इसलिए इन खिलाडिय़ों से बतौर सीनियर होने के नाते एक बार फिर अपनी जिम्मेदारी निभाने की अपेक्षा की जा सकती है। जहां तक युवराज की फार्म की बात है तो वह अब तक निचले क्रम पर खरे नहीं उतर सके हैं लेकिन इस बात पर संदेह नहीं है कि आलराऊंडर युवराज प्रतिभाशाली हैं और किसी भी समय मैच का रुख बदल सकते हैं।

बात गेंदबाजों की करें तो 36 वर्षीय तेज गेंदबाज दिल्ली के आशीष नेहरा इस उम्र में भी टीम में अपने प्रदर्शन की बदौलत न सिर्फ वापसी में कामयाब रहे हैं बल्कि लगातार अपने प्रदर्शन से उन्होंने चयनकत्र्ताओं के फैसले को सही साबित किया है। नेहरा ने पिछले मैच में 5.75 के औसत से 23 रन देकर 3 विकेट झटके थे और सबसे सफल गेंदबाज रहे थे। 

पाकिस्तानी के अनुभवी खिलाड़ी और कप्तान शाहिद अफरीदी के नेतृत्व वाली टीम भी इस हाईवोल्टेज मुकाबले में दबाव को पार पाते हुए भारत के खिलाफ अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने उतरेगी। टीम के पास मोहम्मद आमिर, मोहम्मद हफीज, शोएब मलिक, वहाब रियाज और उमर अकमल जैसे सीनियर खिलाड़ी हैं जो काफी आक्रामक भी हैं।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top