होम जानिये पूरा सच बेटी को क्यों पिलाना पड़ा अपने पिता को अपना मिल्क

अजब-गजब

जानिये पूरा सच बेटी को क्यों पिलाना पड़ा अपने पिता को अपना मिल्क

जानिये पूरा सच बेटी को क्यों पिलाना पड़ा अपने पिता को अपना मिल्क

जानिये पूरा सच  बेटी को क्यों पिलाना पड़ा अपने पिता को अपना मिल्क

नई दिल्ली : डॉक्टर से लेकर घर के बुजुर्गों तक का कहना हैं कि मां का दूध बच्चे के सेहत के लिए बेहद लाभदायक होता हैं क्योंकि मां के दूध में बहुत ही ज्यादा मात्रा में पोषण पाया जाता हैं, एक रिसर्च के मुताबिक मां का दूध जितना बच्चे के लिए लाभदायक होता है उतना ही एक वयस्क के लिए भी लाभप्रद होता है, ऐसे में यह रिसर्च जब सच साबित हुआ जब अपने पिता की जान बचाने के लिए एक बेटी ने ब्रेस्ट फीडिंग कर अपने पिता की जान बचा ली, डॉक्टर्स का कहना हैं कि मां के दूध से कैंसर का इलाज संभव है, आपको बता दें कि एक रिसर्च के मुताबिक ब्रेस्ट मिल्क में ‘हेमलेट’ नामक पदार्थ पाया जाता है जो ट्यूमर सेल्स को नष्ट करने में काफी भूमिका निभाता हैं और कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से लड़ने में ताकत प्रदान करता है |

खबरों के मुताबिक स्वीडन के एक प्रोफेसर ने ये दावा किया है कि 64 साल का एक बुजुर्ग कैंसर से पीड़ित था जब ये बात उनकी 30 साल की बेटी ‘जिल’ को पता चली तो पिता को खोने का डर सताने लगा. लेकिन जब जिल को ब्रेस्ट मिल्क के शोध के बारे में पता तो वो सोच में पड़ गई और फिरउनके यह बात उनके अपने परिवार से कही तो उन्हें लगा ये लड़की बकवास कर रही है, वही जिल इस उलझन में थी कि उसके पिता उसका ब्रेस्ट मिल्क पिएंगे या नही ऐसे में जिल ने अपने पिता से बात की और उनको समझा-बुझाकर ब्रेस्ट मिल्क देना शुरू किया और अब उसके पिता सही सलामत हैं |

आपको बता दें कि ट्यूमर सेल्स को नष्ट करने के लिए ‘हेमलेट’ एक चमत्कारी रूप से काम करता है, कैंसर रोगियों पर इसका परीक्षण किया जा चुका है जिसका परिणाम काफी अच्छा और आश्चर्यचकित कर देने वाला था, स्वीडन की एक यूनिव्रर्सिटी में प्रोफेसर कैथरीना स्वानबोर्ग कई सालों से इस पर रिसर्च कर रही हैं |

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top