होम रेल बजट: महिलाओं, बुजुर्गों और बच्चों का रखा ध्यान

देश

रेल बजट: महिलाओं, बुजुर्गों और बच्चों का रखा ध्यान

रेल बजट: महिलाओं, बुजुर्गों और बच्चों का रखा ध्यान

रेल बजट: महिलाओं, बुजुर्गों और बच्चों का रखा ध्यान

Photo

 संसद में रेल बजट पेश कर दिया गया है। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने लोकसभा में अपना दूसरा रेल बजट पेश कर दिया है। लोकसभा में रेल बजट पेश करने के बाद रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि रेल बजट में सभी का ध्यान रखा गया है। रेलवे चुनौतियों के दौर से गुजर रहा है लेकिन रेलवे में अधिक से अधिक रोजगार पैदा करना है।

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन को साकार करना है और बजट की प्रेरणा पीएम मोदी से मिली है। रेलवे ने टैरिफ बढ़ाकर आमदनी बढ़ाई है और हर एक रुपए का हिसाब रखा गया है। ये बड़ी चुनौतियों का समय है लेकिन रेलवे को अंतर्राष्ट्रीय दर्जे का बनाने के लिए काम कर रहे हैं। 7वें वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू करने से रेलवे पर बोझ बढ़ेगा।

वित्त वर्ष 2017 में ऑपेरटिंग रेश्यो 92 फीसदी के मुकाबले 90 फीसदी रहने का अनुमान है। लागत कम करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं और आय 10 फीसदी बढ़ाने का लक्ष्य है। इस साल रेलवे को 8720 करोड़ रुपए की बचत की उम्मीद है। वित्त वर्ष 2017 में 1.21 लाख करोड़ रुपए का खर्च करेंगे, जो सालाना आधार 21 फीसदी ज्यादा है। वहीं वित्त वर्ष 2017 में आय का लक्ष्य 1.85 लाख करोड़ रुपए है। रेलवे में पिछले साल के मुकाबले दोगुना निवेश हुआ है।

वित्त वर्ष 2017 में यात्री किराए से 51012 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य है, जो सालाना आधार पर 12.4 फीसदी ज्यादा है। वित्त वर्ष 2017 में ढुलाई से 1.18 लाख करोड़ रुपए का लक्ष्य है। एलआईसी ने अगले 5 साल में 1.5 लाख करोड़ रुपए का निवेश का वादा किया है। वित्त वर्ष 2017 में पेंशन पर 45400 करोड़ रुपए खर्च होगा। रेलवे की मेक इन इंडिया से 40000 करोड़ रुपए जुटाने की योजना है। वित्त वर्ष 2017 में पीपीपी के जरिए मड़गांव और हजीरा में पोर्ट बनाएंगे। वित्त वर्ष 2017 में सरकार से 40000 करोड़ रुपए के बजटीय मदद की जरूरत है। 40000 करोड़ रुपए से 2 डीजल इंजन फैक्ट्री लगाएंगे।

रेलवे में पीपीपी मॉडल पर जोर होगा और सुरक्षा सुधारों पर सरकार का जोर होगा। रेलवे का टॉयलेट सुधार पर फोकस रहेगा और चौड़े रेल ट्रैक लगाने की योजना है। बिजली से चलने वाली ट्रेनों पर फोकस रहेगा। वित्त वर्ष 2018 में प्रतिदिन 9 किलोमीटर ब्रॉडगेज लाइन का निर्माण किया जाएगा, जबकि वित्त वर्ष 2019 में प्रतिदिन 13 किलोमीटर ब्रॉडगेज लाइन का निर्माण किया जाएगा। वित्त वर्ष 2017 में 2000 किलोमीटर लाइन का विद्युतीकरण करेंगे। 2 लोकोमोटिव फैक्ट्री लगाने की योजना है। 3 नए फ्रेट कॉरिडोर बनाए जाएंगे।

रेलवे में ऑनलाइन भर्तियां होंगी और ज्यादा से ज्यादा कंप्यूटर का इस्तेमाल होगा। 2020 तक हर यात्री को कंफर्म टिकट देने की योजना है। जनरल कोच में मोबाइल चार्ज की सुविधा देंगे। 1700 ऑटो वेंडिंग मशीन और 2500 वॉटर वेंडिंग मशीन लगाने की योजना है। रेलवे में सुरक्षा हेल्पलाइन नबंर 182 होगा और मौजूदा 311 स्टेशन सीसीटीवी से लैस होंगे। 400 स्टेशनों के आधुनिकीकरण की योजना है और 2 साल में 400 स्टेशन वाई-फाई सुविधा से लैस होंगे। 17000 बायो-टॉयलेट बनाने की योजना है। वरिष्ठ नागरिकों के लिए कोटा 50 फीसदी बढ़ाया गया है। हर ट्रेन 120 सीट बुजुर्गों के लिए आरक्षित होंगे। बुजुर्गों के लिए और एस्केलेटर लगाने की योजना है। महिलाओं के लिए 33 फीसदी सीट आरक्षित किए जाएंगे।

वडोदरा में रेलवे विश्वविद्यालय स्थापित किया जाएगा और हबीबगंज देश का पहला मॉडर्न स्टेशन होगा। रेलवे मंत्री सुरेश प्रभु ने हमसफर, तेजस और उदय नाम से 3 नई ट्रेनों का एलान किया है। हमसफर 3-एसी ट्रेन होगी, जबकि उदय डबल डेकर एसी ट्रेन होगी। तेजस की रफ्तार 130 किलोमीटर प्रति घंटा होगी। साथ ही लंबी दूरी के लिए सभी अनारक्षित सीटों वाली अंत्योदय एक्सप्रेस ट्रेन शुरू की जाएगी। तत्काल टिकटों की बुकिंग सीसीटीवी की निगरानी में होगी। कोच में साफ-सफाई की मांग एसएमएस के जरिए होगी।

देश के धार्मिक स्थलों को जोड़ने के लिए आस्था ट्रेन शुरू करने की योजना है। रेल मंत्री ने नया रेल फंड बनाने की योजना का एलान किया है और रेल सफर का बीमा कराने की योजना है। दिव्यांगों के लिए व्हीलचेयर की ऑनलाइन बुकिंग और सभी सवारी डिब्बे ब्रेल इनेबल्ड किए जाएंगे। दिव्यांगों के लिए ऑनलाइन टिकट बुकिंग को सुविधाजनक बनाया जाएगा। मुंबई मेट्रो को रेलवे से जोड़ने की योजना है और ट्रेनों में एफएम रेडियो की सुविधा का प्रस्ताव है। माल भाड़े की समीक्षा की जाएगी और अभी माल भाड़ा नहीं बढ़ेगा। रेलवे बोर्ड का पुनर्गठन किया जाएगा और रेलवे के लिए होल्डिंग कंपनी बनाने की योजना है। रेलवे की ओर से स्टार्टअप्स के लिए 50 करोड़ रुपये का प्रावधान किया जाएगा।

मुंबई में 2 एलिवेटेड रेल कॉरिडोर बनाने की योजना है। चर्चगेट-विरार और सीएसटी-पनवेल रेलमार्ग पर एलिवेटेड रेल कॉरिडोर के लिए बोलियां मंगाने की योजना है। दिल्ली में रिंग रेल की योजना है और रिंग रेल में 21 नए स्टेशन होंगे। मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन पर काम शुरू है। चेन्नई में रेल ऑटो हब बनेगा। पीपीपी के जरिए ट्रैक के पास वेयरहाउसिंग पार्क बनाए जाएंगे। ट्रैक के आसपास की जमीन बेचकर पूंजी जुटाने की योजना है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top