होम UP: लखनऊ के मंदिर में आई धमकी भरी चिट्ठी,14 अगस्त तक पकड़े गए मुजाहिदों को छोड़ दो , मंदिर और RSS दफ्तर हमारे निशाने पर

राज्यउत्तर प्रदेश

UP: लखनऊ के मंदिर में आई धमकी भरी चिट्ठी,14 अगस्त तक पकड़े गए मुजाहिदों को छोड़ दो , मंदिर और RSS दफ्तर हमारे निशाने पर

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कई मंदिरों और RSS के दफ्तरों को 15 अगस्त से पहले उड़ाने की धमकी भरा पत्र मिला है। इस पत्र में RSS कार्यालय और बड़े मंदिरों को निशाना बनाए जाने की बात कही गई है।

  UP: लखनऊ के मंदिर में आई धमकी भरी चिट्ठी,14 अगस्त तक पकड़े गए मुजाहिदों को छोड़ दो , मंदिर और RSS दफ्तर हमारे निशाने पर

UP:लखनऊ के मंदिर में आई धमकी भरी चिट्ठी,14 अगस्त तक पकड़े गए मुजाहिदों को छोड़ दो , मंदिर और RSS दफ्तर हमारे निशाने पर 

UP: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कई मंदिरों और RSS के दफ्तरों को 15 अगस्त से पहले उड़ाने की धमकी भरा पत्र मिला है। इस पत्र में RSS कार्यालय और बड़े मंदिरों को निशाना बनाए जाने की बात कही गई है। मंदिर में मिले पत्र में लिखा गया है कि अगर 14 अगस्त की शाम तक पकड़े गए मुजाहिदों को रिहा नहीं किया गया तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहें। चिट्ठी लिखने वाले शख्स ने खुद को जेहाद समर्थक बताया है। मंदिर प्रशासन से जुड़े लोगों ने तुरंत ही पुलिस विभाग के बड़े अधिकारियों से संपर्क किया और इसकी जानकारी दी। मंदिर में धमकी भरा पत्र मिलने से नगर में हड़कंप मच गया है। 

अलीगंज स्थित हनुमान मंदिर मे मिला पत्र 

आपको बता दें कि लखनऊ के अलीगंज स्थित नए हुनमान मंदिर में गुरुवार की शाम एक धमकी भरा पत्र मिला था। रजिस्टर्ड डाक से भेजा गया यह पत्र मंदिर प्रबंधक के नाम से आया है। पत्र जिस लिफाफे में आया, उस पर त्रिवेणीनगर के उपडाकघर की मुहर लगी है। पत्र भेजने वाले के नाम व पते के स्थान पर जोगिंदर सिंह, खदरा मदेयगंज लिखा हुआ है। पत्र में लिखा है कि जिन मुजाहिदों को गिरफ्तार किया गया है उन्हें तुरंत रिहा कर दिया जाए, हमारी कौम के सब्र का इम्तिहान न लिया जाए। अगर ऐसा न किया गया तो हमे मजबूरन हथियार उठाने पड़ेंगे। उस सूरत में लखनऊ शहर में हर बड़े मंदिर और आरएसएस के दफ्तर हमारे निशाने पर पहले से ही है।

चिठ्ठी में आगे लिखा है- पूरे शहर में 10 हिन्दू हजरात पर हमारी खास तवज्जो भी है जो कि इस्लाम और मुसलमानों के खिलाफ मुहिम चला रहे हैं। पत्र में कुछ भड़काऊ बातें भी लिखी हैं। पत्र में आगे लिखा है कि कोई यह न सोचे कि हमे किसी का खौफ है। हम सिर्फ अल्लाह से ही डरते हैं और इसलिए हम अपना नाम भी खुले तौर पर लिख रहे हैं। आगे लिखा है कि 15 अगस्त से एक दिन पहले तक का वक्त दिख जा रहा है। हमारे मुजाहिदों को छोड़ दो, वरना आगे के अंजाम के जिम्मेदार आप खुद होंगे।

DCP नार्थ देवेश कुमार पांडे ने कहा- मंदिर में मिले धमकी भरे पत्र की जांच करवाई जा रही है। पुलिस कर्मी इस मामले में काम कर रहे हैं। मंदिरों की कड़ी सुरक्षा की जा रही है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top