शिक्षा

रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक प्रस्तुतियों पर झूमे अभिभावक

रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक प्रस्तुतियों पर झूमे अभिभावक

रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक प्रस्तुतियों पर झूमे अभिभावक

Photo

लखनऊ, 13 मई। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) द्वारा ‘सी.आई.एस.वी. मिनी कैम्प का नेशनल प्रजेन्टेशन’ एवं न्यू पैरेन्ट्स ईवनिंग समारोह’ का आयोजन बड़े धूमधाम व उल्लासपूर्ण वातावरण में विद्यालय के ऑडिटोरियम में सम्पन्न हुआ। सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने दीप प्रज्वलित कर समारोह का विधिवत् शुभारम्भ किया। इस अवसर पर अपने संबोधन में सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने कहा कि सी.एम.एस. केवल किताबी ज्ञान न देकर बच्चों को मानवीयता की शिक्षा से भी ओतप्रोत कर बच्चों का सम्पूर्ण विकास करने को प्रतिबद्ध है और यह कार्यक्रम इन्हीं विचारों का साकार रूप है। डा. गाँधी ने कहा कि बच्चों को अच्छा संसार देने की शुरूआत घर-परिवार से करनी चाहिए एवं बचपन से ही उनमें अच्छे विचारों व संस्कारों का विकास करना चाहिए। विदित हो कि सी.आई.एस.वी. बाल शिविर के अन्तर्गत छात्रों ने दो दिनों तक साथ-साथ रहकर विश्व एकता, विश्व शान्ति एवं विश्व बन्धुत्व का प्रशिक्षण प्राप्त किया एवं ‘नेशनल प्रेजेन्ट्रेशन समारोह’ के साथ बाल शिविर का समापन हुआ।

          समारोह का शुभारम्भ ‘स्कूल प्रार्थना’, सर्व-धर्म प्रार्थना एवं विश्व शान्ति प्रार्थना से हुआ, जिसने सम्पूर्ण वातावरण को आध्यात्मिक उल्लास से सराबोर कर दिया। इसके उपरान्त विभिन्न रंगारंग शिक्षात्मक-साँस्कृतिक प्रस्तुतियों ने अभिभावकों को झूमने पर मजबूर कर दिया तथापि नाचते-गाते बच्चों की बहुमुखी एवं बाल सुलभ प्रतिभा को देखकर अभिभावक गदगद हो गये। इस अवसर पर समारोह में विभिन्न देशों के प्रतिनिधि बने बच्चों ने विभिन्न देशों की पारम्परिक पोशाक में गीत, संगीत व लोकनृत्यों के माध्यम से विश्व एकता की बेहतरीन मिसाल प्रस्तुत करते हुए हॅसते-गाते विश्व परिवार की भव्य झाँकी प्रस्तुत की। मैत्री, सद्भाव व भाईचारे की भावना से ओतप्रोत इस लघु विश्व की दर्शकों ने भूरि-भूरि प्रशंसा की।

          सी.एम.एस. गोमती नगर कैम्पस की वरिष्ठ प्रधानाचार्या सुश्री मंजीत बत्रा ने कहा कि सी.एम.एस. द्वारा ऐसे प्रयास किये जा रहे हैं जिससे कि प्रत्येक बालक को घर व विद्यालय दोनों जगह विश्व एकता एवं विश्व शान्ति के विचार मिल सके। उन्होंने अभिभावकों का आह्वान किया कि भावी पीढ़ी के चारित्रिक, नैतिक व आध्यात्मिक उत्थान के लिए संकल्पबद्ध हों। सी.एम.एस. गोमती नगर (द्वितीय कैम्पस) की प्रधानाचार्या श्रीमती संगीता बनर्जी ने कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रमों से बच्चों में सहयोग की भावना का विकास होता है एवं उनमें शान्ति, एकता एवं आपसी भाईचारे का प्रादुर्भाव होता है एवं यही भावना एक दिन विश्व परिवार का स्वप्न साकार करने में मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने समारोह की सफलता के लिए छात्रों, अभिभावकों एवं शिक्षकों के प्रति अपना आभार व्यक्त किया।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top