शिक्षा

सी.एम.एस. आर.डी.एस.ओ. कैम्पस द्वारा एनुअल मदर्स डे समारोह का भव्य आयोजन

सी.एम.एस. आर.डी.एस.ओ. कैम्पस द्वारा एनुअल मदर्स डे समारोह का भव्य आयोजन

सी.एम.एस. आर.डी.एस.ओ. कैम्पस द्वारा एनुअल मदर्स डे समारोह का भव्य आयोजन

Photo

लखनऊ, 27 अक्टूबर। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, आर.डी.एस.ओ. कैम्पस द्वारा ‘एनुअल मदर्स डे’ समारोह का भव्य आयोजन सी.एम.एस. कानपुर रोड ऑडिटोरियम में सम्पन्न हुआ। मुख्य अतिथि श्री सुरेश पासी, राज्यमंत्री, आवास, उ.प्र. ने दीप प्रज्वलित कर समारोह का विधिवत उद्घाटन किया। इस अवसर पर विद्यालय के छात्रों ने रंग-बिरंगी पोशाकों में हँसते-गाते नन्हें-मुन्हें बच्चों ने जीवन का उल्लास बिखरते हुए एक से बढ़कर एक शानदार शैक्षिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से अनेकता में एकता, सहयोग, सहकार एवं सामूहिकता का अभूतपूर्व एवं विराट दृश्य प्रस्तुत कर उपस्थित दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया एवं तालियों की गड़गड़ाहट से सम्पूर्ण ऑडिटोरियम गूँज उठा। समारोह में भारी संख्या में उपस्थित अभिभावकों ने अपने नन्हें-मुन्हों की खूब हौसलाअफजाई की और बच्चों ने भी बड़े उत्साह से अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। विश्व शान्ति प्रार्थना के माध्यम से सी.एम.एस. छात्रों ने जहाँ एक ओर विश्व एकता व विश्व शान्ति का जयघोष बड़े ही प्रभावशाली ढंग से किया तो वहीं दूसरी ओर वर्ल्ड पार्लियामेन्ट के अभूतपूर्व प्रस्तुतिकरण द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय न्यायिक व्यवस्था की स्थापना  के लिए ”विश्व संसद“ बनाने की आवश्यकता की ओर सभी का ध्यान आकर्षित किया।

इस अवसर पर अभिभावकों को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि श्री सुरेश पासी, राज्यमंत्री, आवास, उ.प्र. ने कहा कि अनुशासित एवं संस्कारयुक्त वातावरण में पले-बढ़े बालक ही आगे चलकर समाज का मार्गदर्शन कर सकते हैं। उन्होंने माताओं से घर के वातावरण को प्रेममय व ईश्वरमय बनाने का आहवान करते हुए कहा कि जो परिवार मिलजुल कर प्रार्थना करते है उस परिवार के बच्चों का संतुलित विकास बहुत तेजी से होता है। हमें बच्चों को अच्छा संसार देने की शुरूआत घर-परिवार से करनी चाहिए।

3इस अवसर पर सी.एम.एस. आर.डी.एस.ओ. कैम्पस की प्रधानाचार्या श्रीमती अरुणा नायडू ने बच्चों की प्रतिभा की प्रशंसा करते हुए कहा कि हमें अभिभावकों का जो सहयोग बराबर मिलता है यह उसी का परिणाम है। अभिभावक ही बालक में निहित प्रतिभा को विकसित करने का सुअवसर प्रदान करते हैं। सी.एम.एस. प्रत्येक बालक को समाज का प्रकाश बनाने को सतत प्रयासरत है। उन्होंने विश्वास दिलाया कि अभिभावक जिस विश्वास के साथ अपने प्रिय बच्चों को अच्छी पढ़ाई के साथ-साथ अच्छा इन्सान बनाने के लिए भेजते हैं, उस पर अवश्य खरे उतरेंगे। सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गाँधी ने इस अवसर कहा कि विश्व शान्ति, विश्व एकता एवं वसुधैव कुटुम्बकम् के विचारों को बचपन से ही प्रत्येक बालक को देने की आवश्यकता है। अतः सी.एम.एस. द्वारा ऐसे प्रयास किये जा रहे हैं जिससे कि प्रत्येक बालक को घर व विद्यालय दोनों जगह विश्व एकता एवं विश्व शान्ति के विचार मिल सके। उन्होंने आगे कहा कि इस तरह के आदान-प्रदान कार्यक्रमों से निकट भविष्य में भावी पीढ़ी में विश्व एकता एवं विश्व बन्धुत्व की भावना के विकास द्वारा वसुधा कुटुम्ब का स्वप्न साकार करने में सहायता मिलेगी।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top