राजस्थान

इस बार अगर मोदी जीत कर आए तो अगला चुनाव होगा या नहीं इसकी कोई गारंटी नहीं : अशोक गहलोत

इस बार अगर मोदी जीत कर आए तो अगला चुनाव होगा या नहीं इसकी कोई गारंटी नहीं : अशोक गहलोत

इस बार अगर मोदी जीत कर आए तो अगला चुनाव होगा या नहीं इसकी कोई गारंटी नहीं : अशोक गहलोत

Photo

बीकानेर, राजस्थान। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पीएम मोदी पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि अगर इस बार पीएम मोदी 2019 में लोकसभाााा चुनाव जीतकर वापस आते हैं तो इसका कोई गारंटी नहीं है कि आगे के चुनाव होंगे भी या नहीं। सीएम ने कहा कि हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि मुझे लगता है कि पीएम मोदी और आरएसएस का लोकतंत्र पर कोई विश्वास नहीं है।

मुख्यमंत्री गहलोत ने राजस्थान के श्री डूंगरगढ़ में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी बीजेपी और आर एस एस पर सीधा वार किया है उन्होंने कहा कि हमें लगता है अगर इस बार प्रधानमंत्री मोदी जीतकर सत्ता में वापस आए तो दुबारा आगे के चुनाव होंगे या नहीं इसकी कोई गारंटी नहीं है। ऐसा गहरा आरोप लगाते हुए अपने भाषण में कि मंत्री गहलोत ने यह बड़ी बात कही।

बीजेपी और आरएसएस को लोकतंत्र पर भरोसा नहीं है

चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने यह भी आरोप लगाया है कि बीजेपी और आर एस एस को लोकतंत्र पर विश्वास नहीं है उन्होंने कहा कि गांधी जी ने कहा था लोकतंत्र में विपक्ष अगर कोई बात कहता है तो उसका सम्मान होना चाहिए पर बीजेपी और आरएसएस में सहन करने की शक्ति नहीं है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और आर एस एस के लोग विरोध सहन नहीं कर सकते क्योंकि उनको लोकतंत्र पर भरोसा नहीं है। यह लोग सिर्फ लोकतंत्र का मुखौटा पहनकर राजनीति में उतरे हुए हैं इनके पास जनता के लिए कोई नीति या कार्यक्रम नहीं है जो कांग्रेस का मुकाबला कर सके।

इन्हें चुनाव में ही याद आते हैं राम -

गहलोत ने आरोप लगाते हुए कहा है कि इन्हें सिर्फ चुनाव के समय हीराम याद आते हैं। उन्होंने कहा 70 साल से कांग्रेस ने लोकतंत्र को सहेज कर के रखा है अगर लोकतंत्र नहीं होता तो आज मोदी भी प्रधानमंत्री नहीं होते।

2019 लोकसभा चुनाव बहुत ही महत्वपूर्ण -

कांग्रेसी नेता गहलोत ने कहा कि 2019 के यह लोकसभा चुनाव बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा अंग्रेजों के जमाने में पंडित जवाहरलाल नेहरू 12 साल तक जेल में रहे। इंदिरा गांधी ने पाकिस्तान के दो टुकड़े करके बांग्लादेश का उदय किया था और 100000 सैनिकों का समर्पण करवाया था क्या इसके लिए प्रधानमंत्री मोदी को गर्व नहीं होना चाहिए? उन्होंने कहा चुनाव से पहले मोदी ने विदेश से काला धन वापस लाने सभी के खाते में 15-15 करोड़ रुपए डालने और 2 करोड़ लोगों को रोजगार देने की बात कही थी जो सिर्फ एक चुनावी जुमला बनकर रह गया इसलिए 2019 के लोकसभा चुनाव बहुत ही महत्वपूर्ण होने वाले हैं जो देश की तकदीर का फैसला करेंगे।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top