अंतर्राष्ट्रीय

अब कोई भी देश पाकिस्‍तान को नहीं देगा कर्ज

अब कोई भी देश पाकिस्‍तान को नहीं देगा कर्ज

अब कोई भी देश पाकिस्‍तान को नहीं देगा कर्ज

Photo

फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) के पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में डालने के बाद अब पाकिस्तान को एक और झटका लगा है। FATF के एक्शन के खिलाफ लाए जाने वाले प्रस्ताव से चीन ने अपने हाथ खींच लिए है और पाकिस्तान का साथ छोड़ दिया है।अब पाकिस्‍तान की आर्थिक व्‍यवस्‍था ब्‍लैकलिस्‍ट की सूचि में है।

अगर जून तक पाकिस्तान ने टेरर फंडिंग को खत्म करने के लिए विस्तृत कार्ययोजना तैयार नहीं की तो उसका नाम ब्लैकलिस्ट में शामिल, देशों में डाल दिया जाएगा। इस का परिणाम पाकिस्तान की इकॉनोमी पर पड़ेगा। पाकिस्तान को अबतक चीन, सऊदी अरब और तुर्की का समर्थन था। सऊदी ने पहले ही अपने कदम वापस खींच लिए थे और चीन भी अब पीछे हट गया है। पाकिस्‍तान के प्रमुख अखबार द डॉन के अनुसार चीन ने पाकिस्तान को इस बात की सूचना दे दी है कि अब वह इस मामले से बाहर रहने वाला है। चीन ने कहा है कि असफल होने वाले प्रस्ताव को अपना समर्थन देकर वह अपनी स्थिति को कमजोर नहीं बना सकता।

पाकिस्तान को FATF की ग्रे सूची में डाला गया

 मनी लॉन्ड्रिंग और टेरर फाइनेंसिंग के परेशानियों पर रोक न लगाने वाले देशों की रेटिंग तैयार करने का काम फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स तैयार करता है। ये इसी आधार पर ग्रे और ब्लैक लिस्ट तैयार करता है, लेकिन यह किसी भी देश पर कोई प्रतिबंध नहीं लगा सकता है। हालांकि इसका असर उस देश की अर्थव्यवस्था पर पड़ता है। इससे पाकिस्तान की वित्तीय साख खराब हो गई है और अंतरराष्ट्रीय बाजार से कर्ज हासिल करना उसके लिए मुश्किल हो गया है। विदेशी निवेशकों और कंपनियों की पाकिस्तान में दिलचस्पी कम हो गई है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top