उत्तर प्रदेश

समता मूलक समाज बनाना ही था डॉ. अंबेडकर का अंतिम उद्देश्य...जावेद अंसारी जाम

समता मूलक समाज बनाना ही था डॉ. अंबेडकर का अंतिम उद्देश्य...जावेद अंसारी जाम

समता मूलक समाज बनाना ही था डॉ. अंबेडकर का अंतिम उद्देश्य...जावेद अंसारी जाम

Photo

बाबा साहब डॉ. भीम राव अम्बेडकर जी की जयन्ती रसड़ा क्षेत्र के डेहरी, जाम, परसिया, सिसवार खुर्द गाँव मे धूमधाम से मनाई गई।
डेहरी गाँव मे हजारो लोगो का हुजूम ने बाबा साहब की झांकी निकाली व संगोष्टि की।
रैली को तिरंगा झंडा दिखाकर मुख्यअतिथि जावेद अंसारी जाम ने रवाना किया एवं अपने वक्तव्यों में बोलते हुये कहा कि समाज के अंतिम छोर पे खड़े दलित, अतिदलित, पिछड़ा, अल्पसंख्यक एवं सभी जातियों के गरीब शोषित अशिक्षित लोगो के लिये बाबा साहब देवता के रुप मे आये और हमेशा के लिये हम सब के जीवन मे उजाला भर दिये ऐसे महापुरूष की जयंती पर हम बारम-बार प्रणाम और नमन करते है।
सभा का संचालन युवा नेता चंद्रभान राम और अध्यक्षता पूर्व प्रधान रामचीज राम ने किया। इस अवसर पर शिवशंकर रावत बिहारी, सर्वदास कन्नौजिया, गोविंद कुमार, दिलीप, पुष्पा देवी, आरती, किसमतीय देवी, अनिल कुमार, राजू, संजय, दीपक, हरेराम  इत्यादि उपस्थित रहे।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top