समाचारराष्ट्रीयराज्यउत्तर प्रदेश

एक साथ 25 स्कूलों में पढ़ा रही महिला अध्यापिका ने उठाया 1 करोड़ वेतन, शिक्षा विभाग ने दिए जांच के आदेश

एक साथ 25 स्कूलों में पढ़ा रही महिला अध्यापिका ने उठाया 1 करोड़ वेतन, शिक्षा विभाग ने दिए जांच के आदेश

एक साथ 25 स्कूलों में पढ़ा रही महिला अध्यापिका ने उठाया 1 करोड़ वेतन, शिक्षा विभाग ने दिए जांच के आदेश

Photo

एक साथ 25 स्कूलों में पढ़ा रही महिला अध्यापिका ने उठाया 1 करोड़ वेतन। महिला कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में काम करने वाली पूर्णकालिक शिक्षिका अमेठी, अंबेडकर नगर, रायबरेली, प्रयागराज, अलीगढ़ के साथ-साथ कई अन्य जिलों में एक साथ 25 स्कूलों में कार्यरत पाई गई।

25 स्कूलों में एक साथ कार्यरत रहने का रिकॉर्ड -

उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा विभाग के अंतर्गत आने वाले कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में कार्यरत एक शिक्षिका ने 1 करोड़ रूपये वेतन निकला है।  इसके लिए शिक्षिका प्रदेश के अलग-अलग 25 स्कूलों में एक साथ नौकरी करती पाई गई। यह मामला संज्ञान में तब आया जब विभाग ने शिक्षकों का डिजिटल डेटाबेस बनाना शुरू किया और अब विभाग ने इस पूरे मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।  

बेसिक शिक्षा अधिकारी के अनुसार अब शिक्षकों का डिजिटल डाटा बेस बनाया जा रहा है और इस प्रक्रिया के दौरान कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में काम करने वाली पूर्णकालिक शिक्षिका अमेठी, अंबेडकर नगर, रायबरेली, प्रयागराज, अलीगढ़ सहित अन्य 25 जिलों में एक साथ स्कूलों में काम करने का मामला सामने आया है।

यह भी पढ़ें - डा. जगदीश गाँधी ने दी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जन्मदिन की बधाई

एक डिजिटल डेटाबेस के बावजूद शिक्षिका इस साल फरवरी तक का वेतन धोखाधड़ी कर विभाग से निकालने में सफल रही है। शिक्षिका ने 13 महीने तक का वेतन लगभग 1 करोड रुपए निकाल लिए हैं। विभाग के मुताबिक अनामिका शुक्ला नाम की महिला 25 स्कूलों में शिक्षिका के तौर पर काम कर रही थी। विभाग के पास उपलब्ध रिकॉर्ड के अनुसार महिला मैनपुरी जिले की मूल निवासी है। विभाग ने अनामिका को नोटिस भेजा पर उनकी तरफ से कोई प्रतिक्रिया अभी तक नहीं मिली है फिलहाल शिक्षिका का वेतन तत्काल प्रभाव से रोक दिया गया है और विभाग यह पता लगाने की कोशिश में जुट गया है कि विभिन्न स्कूलों में वेतन के लिए क्या महिला ने एक ही बैंक खाते का उपयोग किया था या कई अलग अलग खातों का उपयोग किया है।

इंडिया टुडे से बातचीत में शिक्षा मंत्री डॉ सतीश द्विवेदी ने दी जानकारी -

इंडिया टुडे से बातचीत करते हुए यूपी के शिक्षा मंत्री डॉ सतीश द्विवेदी ने कहा विभाग ने जांच के आदेश दे दिए हैं और आरोप सच होने पर आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। हमारी सरकार के सत्ता में आने के बाद पारदर्शिता के लिए डिजिटल डेटाबेस बनाया जा रहा है। यदि विभाग के अधिकारियों की कोई संलिप्तता पाई गई तो उचित कार्यवाही की जाएगी। अनुबंध के आधार पर कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय स्कूलों में नियुक्तियां की जाती है। फिलहाल विभाग इन सभी तथ्यों का पता लगाने में जुट गया है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top