होम मेरठ पुलिस का क्रूर चेहरा

उत्तर प्रदेश

मेरठ पुलिस का क्रूर चेहरा

महिलाओं की सुरक्षा करने का दावा करने वाली यूपी सरकार में आज महिलाए सुरक्षित नहीं है।

मेरठ पुलिस का क्रूर चेहरा

नोएडा : महिलाओं की सुरक्षा करने का दावा करने वाली यूपी सरकार में आज महिलाए सुरक्षित नहीं है। महिलाओं का उत्पीड़न और अस्मिता से खिलवाड़, बदमाश और गुंडे नहीं वे लोग कर रहे जिनको इनकी रक्षा का भार साैंपा गया है, लेकिन जब रक्षक ही भक्षक बन जाएं तो आैर कौन क्या कर सकता है?

मेरठ पुलिस का क्रूर चेहरा
मामला मेरठ के शास्त्री नगर थाना क्षेत्र का है, जहां पुलिस ने एक महिला को इस कदर लात घूंसों और पट्टों से पीटा कि महिला बेहोश हो गई। साथ ही थाने के एसएचओ महिला के लिए आपत्तिजनक शब्द भी कहे। मेरठ के शास्त्री नगर में रहने वाली सरोज का सोनू से 20 हजार रुपए को लेकर विवाद था। जब महिला ने अपने रुपए सोनू से वापस मागें तो उसने पुलिस में सांठ-गांठ कर रुपए महिला को न देकर पुलिस को दे दिये जिसके बाद पुलिस ने पीड़िता को 18 तारीख को थाने में बुलाया और थाने में मौजूद सोनू ने यह कहकर कि तूने मेरी शादी अपनी लड़की से क्यों नहीं की सरोज को थप्पड़ मार दिया। इसके बाद पुलिस व महिला पुलिस के साथ सादा कपड़े पहने लगभग 12 से 15 लोगों ने महिला को इस कदर पीटा की महिला के शरीर में गंभीर चोटें आ गर्इ। पीड़ित महिला ने इंस्पेक्टर संदीप पर अपशब्द कहने का आरोप भी लगाया।

नहीं मिला न्याय
महिला ने बताया कि पुलिस ने हमारी एक भी नहीं सुनी और जज के पास न ले जाकर बाहर से बाहर मुझे जेल भेज दिया। जिसके बाद मुझे 21 जून को रिहाई मिल गई। पीड़ित महिला ने बताया कि वह सीएम योगी से मिली। डीएम आैर सांसद से भी न्याय की गुहार लगार्इ। लेकिन अभी तक आरोपियों को कोई सजा नहीं हुर्इ है। उसके बाद घायल सरोज को उसके पति ने हॉस्पिटल में भर्ती कराया है। महिला अभी नोएडा सेक्टर 51 के निजी अस्पताल शिवालिक में अपना ट्रीटमेन्ट करा रही है। वहीं डॉक्टर का कहना है कि महिला के शरीर में ऐसा कोई अंग नही बचा है, जिसमें चोटें न हो और महिला के गुप्तांगों में गंभीर चोट लगने से ब्लडिंग आ रही थी। पीड़िता की हालत गंभीर बनी हुए है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top