होम योगी आदित्यनाथ को 125 किलो का साबुन देने जा रहे 41 दलितों को हिरासत में लिया गया

उत्तर प्रदेश

योगी आदित्यनाथ को 125 किलो का साबुन देने जा रहे 41 दलितों को हिरासत में लिया गया

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को 125 किलो का साबुन देने जा रहे 41 दलितों को पुलिस ने हिरासत कर लिया है। गुजरात के इन सभी दलितों को पुलिस ने झांसी रेलवे स्टेशन पर हिरासत में ले लिया है।

योगी आदित्यनाथ को 125 किलो का साबुन देने जा रहे 41 दलितों को हिरासत में लिया गया

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को 125 किलो का साबुन देने जा रहे 41 दलितों को पुलिस ने हिरासत कर लिया है। गुजरात के इन सभी दलितों को पुलिस ने झांसी रेलवे स्टेशन पर हिरासत में ले लिया है। ये सभी लोग गुजरात से साबरमती एक्सप्रेस से मुख्यमंत्री को साबुन देने के लिए आ रहे थे। ये सभी दलित सदस्य अहमदाबाद के डॉक्टर अंबेडकर वचन प्रतिबंध समिति के सदस्य थे, जिन्होंने इस बात की योजना बनाई थी कि वह योगी आदित्यनाथ को अपना विरोध जताते हुए 125 किलो का साबुन देंगे।

आपको बता दें कि हाल ही में एक खबर सामने आई थी जिसमें मुख्यमंत्री को कुशनीगर दौरे के दौरान 100 दलित परिवारों को साबुन, शैंपू आदि बांटा गया था, ताकि वह मुख्मयंत्री के आने से पहले खुद को साफ कर सके। लेकिन इसके विरोध में समिति के सदस्यों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को दलित विरोधी करार दिया और दलित परिवारों को साबुन शैंपू बांटे जाने का जमकर विरोध किया।

जो 45 दलित यूपी आ रहे थे उसमें आठ महिलाएं भी शामिल थी, जोकि अहमदाबाद से साबरतमी एक्सप्रेस से लखनऊ आ रही थीं। वहीं पुलिस का कहना है कि हमने 41 लोगों को हिरासत में लिया है, इन लोगों को इसलिए हिरासत में लिया गया कि कहीं ये लोग लखनऊ पहुंचकर कानून व्यवस्था के लिए मुश्किल खड़ी कर सकते हैं। वहीं झांसी रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ ने किसी भी तरह की भूमिका से इनकार किया है।

समति के सदस्य मार्टिन मैकवान का कहना है कि जैसे ही ट्रेन झांसी पहुंची हमसे कहा गया कि कोच से बाहर निकले, हमें जबरन स्टेशन पर उतारा गया, जिसके बाद इन लोगों ने स्टेशन पर धरना दिया। वहीं इस मामले में एडीजीपी कानपुर जोन के अविनाश चंद्रा ने कहा कि झांसी पुलिस ने इन लोगों को लखनऊ से मिली जानकारी के आधार पर हिरासत में लिया था, इन लोगों को वापस भेज दिया जाएगा।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

Facebook

To Top