होम वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में तुलसी का पौधा कहां लगाएं

वास्तु शास्त्र

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में तुलसी का पौधा कहां लगाएं

तुलसी को देवी का रूप माना जाता है। साथ ही मान्यता है कि तुलसी का पौधा घर में होने से घर वालों को बुरी नजर प्रभावित नहीं कर पाती और अन्य बुराइयां भी घर और घरवालों से दूर ही रहती है।

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में तुलसी का पौधा कहां लगाएं

अधिकतर हिंदूऔ के घरों में तुलसी का पौधा जरूर होता है। तुलसी घर के आंगन में लगाने की प्रथा हजारों साल पुरानी है। तुलसी को देवी का रूप माना जाता है। साथ ही मान्यता है कि तुलसी का पौधा घर में होने से घर वालों को बुरी नजर प्रभावित नहीं कर पाती और अन्य बुराइयां भी घर और घरवालों से दूर ही रहती है। मगर तुलसी को यदि घर में कुछ खास जगह लगाया जाए तो इसका प्रभाव और अधिक बढ़ जाता है।

आंगन में तुलसी
घर के आंगन में तुलसी का पौधा ठीक दरवाजे के सामने होना चाहिए। यदि मुख्यदरवाजे के ठीक सामने तुलसी का पौधा लगाया जाए तो घर की पवित्रता बनी रहती है और यदि मुख्यद्वार के सामने लगे तुलसी के पौधे को जल चढ़ाने और उसके सामने दीया लगाने से घर की सुख-समृद्धि बनी रहती है। इसका मुख्य कारण है इससे धर की वायु शुद्ध होती है और घर के सदस्य को संक्रामक बीमारियों का सामना नहीं करना पड़ता है।

उत्तर-पूर्व कोने में तुलसी का पौधा
घर के उत्तर पूर्वी कोने में तुलसी का पौधा लगाने से कई तरह के वास्तुदोष दूर होते हैं। दरअसल, वास्तुशास्त्र में घर के इस कोने को सकारात्मक ऊर्जा का केंद्र माना गया है। इस कोने को जितना साफ-सुथरा रखा जाए। घर की सकारात्मक ऊर्जा में उतनी ही बढ़ोतरी होती है। इसलिए इस कोने में तुलसी लगाना बहुत अच्छा माना गया है।

करनी चाहिए तुलसी की परिक्रमा
जल चढ़ाकर तुलसी की परिक्रमा करने से न सिर्फ घर की सुख-शांति में बढ़ोत्तरी होती है, बल्कि इससे शरीर का इम्यून सिस्टम भी मजबूत होता है। इसका कारण तुलसी में मौजूद एंटी बैक्टिरयल प्रापर्टीज हैं।

ठाकुरजी के भोग में तुलसी
तुलसी का पौधा घर में लगाने का एक मुख्य कारण ये भी है कि इसके बिना ठाकुरजी को भोग नहीं लगता है। इस प्रथा के पीछे धार्मिक और वैजानिक दोनों कारण है। धार्मिक ये कि तुलसी ठाकुर जी को अतिप्रिय है और वैज्ञानिक कारण ये है कि इसके नियमित सेवन से कैंसर और दमा सहित अनेक असाध्य रोग दूर रहते हैं।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top