होम NSG में भारत की नो एंट्री : चीन

विदेश

NSG में भारत की नो एंट्री : चीन

भारत की एंट्री न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप (एनएसजी) में हमेशा खिलाफ रहने वाले चीन ने एक बार फिर खुले तौर पर विरोध जाहिर कर दिया है। कि एनएसजी में नए हालातों के चलते किसी भी नए सदस्य का आना ठीक नहीं होगा। 48 देशों की सदस्यता वाला एनएसजी

NSG में भारत की नो एंट्री : चीन

भारत की एंट्री न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप (एनएसजी) में हमेशा खिलाफ रहने वाले चीन ने एक बार फिर खुले तौर पर विरोध जाहिर कर दिया है। कि एनएसजी में नए हालातों के चलते किसी भी नए सदस्य का आना ठीक नहीं होगा। 48 देशों की सदस्यता वाला एनएसजी, परमाणु व्यापार को नियंत्रित करता है और भारत भी इसकी सदस्यता पाने की कोशिश में है, लेकिन चीन लगातार अड़ीयल रुख अपनाए बैठा हुआ है। जबकि, कई सदस्य भारत के समर्थन में हैं। चीन के विदेश मंत्रालय का कहना है कि एनएसजी में पुराना जैसा कुछ नहीं है और नए हालातों को देखते हुए जो देश जुड़ना चाहते हैं, वे उस लायक नहीं हैं। हालांकि, चीन ने एनएसजी को गैर-भेदभावपूर्ण और सार्वभौमिक रूप से लागू समाधान तक पहुंचने के लिए सभी सदस्यों के परामर्श का समर्थन किया है। आपको बता दें कि पाकिस्तान ने भी एनएसजी की सदस्यता के लिए अप्लाई किया है, लेकिन चीन खुले तौर पर उसके समर्थन में नहीं आया है। इस पर भी विदेश प्रवक्ता ने साफ कर दिया था कि वे नए सदस्यों की एंट्री को लेकर अपने पक्ष पर बरकार है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

Facebook

To Top