होम किसी ने सराहा तो किसी ने नकारा सरकार का बजट

हिमाचल प्रदेश

किसी ने सराहा तो किसी ने नकारा सरकार का बजट

किसी ने सराहा तो किसी ने नकारा सरकार का बजट

किसी ने सराहा तो किसी ने नकारा सरकार का बजट

Photo

प्रदेश सरकार के आम बजट को जहां राजधानी के व्यापारियों ने खूब सराहा है, वहीं दूध के दामों को बढ़ाना आम जनता ने अनुचित करार दिया है। व्यापारियों ने सभी डीलरों को बिना किसी कारोबार की सीमा के समूह दुर्घटना बीमा योजना के दायरे में लाने का स्वागत किया है। इसके साथ ही व्यापारियों ने समूह दुर्घटना बीमा योजना को 2 लाख से बढ़ाकर 3 लाख रुपए करने की मुख्यमंत्री की इस बजट में की गई घोषणा का स्वागत किया है। 


बजट व्यापारियों के लिए तोहफा: इंद्रजीत 
व्यापार मंडल के अध्यक्ष इंद्रजीत सिंह ने मुख्यमंत्री के पेश किए बजट में सभी डीलरों को बिना किसी कारोबार की सीमा के समूह दुर्घटना बीमा योजना के दायरे में लाने तथा समूह दुर्घटना बीमा योजना को 2 लाख रुपए से बढ़ाकर 3 लाख रुपए करने की घोषणा का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि इस घोषणा से सभी डीलरों ने मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का आभार व्यक्त किया है। इंद्रजीत सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार की 25 लाख रुपए तक का कारोबार करने वाले व्यापारियों के लिए 2 लाख रुपए की समूह दुर्घटना बीमा की घोषणा की है। 


पैट अध्यापक गद्गद्: चंदन 
पैट संघ के प्रदेश प्रवक्ता व मीडिया प्रभारी चंदन नेगी ने कहा कि प्राथमिक सहायक अध्यापक (पैट) मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के बजट में पेश की गई घोषणा पैट अध्यापक होंगे नियमित का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि इस मांग को पैट अध्यापक पिछले कई वर्षों से करते आ रहे हैं और मुख्यमंत्री की इस घोषणा से पैट अध्यापकों की खुशी का ठिकाना नहीं है। 


वेतन में 50 प्रतिशत बढ़ौतरी: राजेश 
हिमाचल अनुबंध अध्यापक संघ के महासचिव राजेश वर्मा ने कहा कि संघ ने पेश बजट घोषणाओं के लिए मुख्यमंत्री व प्रदेश सरकार का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि संघ अनुबंध कर्मियों के वेतन में 50 प्रतिशत की ग्रेड-पे में की गई बढ़ौतरी के लिए भी मुख्यमंत्री का धन्यवादी है। 


बजट मजदूर व जनता विरोधी: विजेंद्र 
सीटू के राज्य सचिव विजेंद्र मैहरा ने यहां प्रदेश सरकार द्वारा वर्ष 2016-17 के लिए घोषित बजट को मजदूर व जनता विरोधी करार दिया है। मैहरा ने कहा कि प्रदेश सरकार जहां नारी उत्थान व महिला सशक्तिकरण की बातें करने वाली बात कर रही है, वहीं आंगनबाड़ी,  मिड-डे-मील, आशा वर्कर्ज आदि के रूप में कार्यरत लगभग 75 हजार महिलाओं के वेतन में एक भी रुपए का इजाफा नहीं किया है। 


योजना किसानों के लिए होगी सफल: ऊषा 
ऊषा ठाकुर ने यहां मुख्यमंत्री के बजट में पेश की गई नई योजना ‘मुख्यमंत्री खेत संरक्षण योजना’ का स्वागत किया है। ऊषा ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री ने इस योजना के  आरंभ करने के लिए 25 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया है। ठाकुर ने कहा कि इस योजना के अंतर्गत जहां कृषकों को बाड़ लगाने के लिए 60 प्रतिशत की सहायता दी जाएगी, वहीं बाड़ को सौर ऊर्जा अथवा विद्युत ऊर्जा से संचरित किया जाएगा। 


‘पंचायत पशुधन पुरस्कार योजना’ स्वागत  योग्य: मोनिका
मोनिका ठाकुर ने मुख्यमंत्री की बजट में घोषणा ‘पंचायत पशुधन पुरस्कार योजना’ के अंतर्गत 5 लाख रुपए के पुरस्कार देने की घोषणा का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक विकास खंड की 2 सर्वोत्तम पंचायतें जहां शत-प्रतिशत पशु पंजीकृत हैं व गोदे जा चुके हैं। इसके साथ ही जहां पशु मालिक पशुओं को नहीं त्यागते और पंचायत बेसहारा पशुओं से पूर्णता मुक्त है उसके अंतर्गत उन्हें सम्मानित किया जाएगा। 

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top