होम Flying sikh के जीवन की दौड़ खत्म, 91 साल की उम्र मे ली अंतिम सांस

समाचारदेश

Flying sikh के जीवन की दौड़ खत्म, 91 साल की उम्र मे ली अंतिम सांस

 Flying sikh के जीवन की दौड़ खत्म, 91 साल की उम्र मे ली अंतिम सांस

Flying sikh के जीवन की दौड़ खत्म, 91 साल की उम्र मे ली अंतिम सांस

Photo

Flying sikh के जीवन की दौड़खत्म

नहीं रहे हमारे बीच देश के महान धावक Milkha Singh, पूरे देश मे दौड़ी शोक की लहर, महान धावक मिल्खा सिंह के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर गहरा दुख व्यक्त किया

91 साल की उम्र मे ली अंतिम सांस

फ्लाइंग सिख नाम से मशहूर महान धावक मिल्खा सिंह (Milkha Singh) ने शुक्रवार को चंड़ीगढ़ के पीजीआईएमईआर हॉस्पिटल में ली अंतिम सांस. वह 91 साल के थे, जो कोविड-19 के बाद की जटिलताओं से जूझ रहे थे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने उनके निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए ट्विटर पर लिखा, 'कुछ दिन पहले ही मैंने मिल्खा सिंह जी से बात की थी. मुझे जरा भी ऐसा अहसास नहीं था कि वह हमारी आखिरी बातचीत होगी. देश के कई उभरते हुए एथलीट उनकी जीवन यात्रा से प्रेरणा लेंगे. उनके परिवार और दुनिया भर में उनके चाहने वालों के प्रति मेरी संवेदनाएं.

इसके अलावा पीएम ने एक अन्य ट्वीट में मिल्खा सिंह के साथ अपनी एक तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा, 'मिल्खा सिंह जी के निधन से हमने एक ऐसे चमत्कारिक खिलाड़ी को खो दिया, जिन्होंने देश की कल्पना को पंख दिए और अनगिनत भारतीयों के दिल में अपनी एक खास जगह बनाई. उनका प्रेरणादाई व्यकित्व लाखों लोगों को प्रेरित करेगा. उनके निधन से गहरा दुख पहुंचा है.

बता दें मिल्खा सिंह को 'फ्लाइंग सिख' नाम से भी माना जाता है. उन्होंने ने एशियाई खेलों में चार बार स्वर्ण पदक जीता है. इसके अलावा 1958 के राष्ट्रमंडल खेलों में भी स्वर्ण पदक जीता था. हालांकि, 91 वर्षीय मिल्खा सिंह को 1960 के रोम ओलंपिक के 400 मीटर फाइनल में उनकी एपिक रेस के लिए भी खासतौर से याद किया जाता है.

उन्होंने 1956 और 1964 के ओलंपिक में भी भारत का प्रतिनिधित्व किया है और उन्हें 1959 में पद्म श्री से सम्मानित किया गया था. बीते 13 जून को ही मिल्खा सिंह की पत्नी का कोरोना के कारण निधन हो गया था.

सिंह के परिवार में तीन बेटियां डॉ. मोना सिंह, अलीजा ग्रोवर, सोनिया सांवल्का और बेटा जीव मिल्खा सिंह हैं. गोल्फर जीव, जो 14 बार के अंतरराष्ट्रीय विजेता हैं, भी अपने पिता की तरह पद्म श्री पुरस्कार विजेता हैं.

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top