होम IS के खिलाफ कार्रवाई पर बोले ट्रम्प : मिशन कामयाब रहा

विदेश

IS के खिलाफ कार्रवाई पर बोले ट्रम्प : मिशन कामयाब रहा

वॉशिंगटन : अमेरिका ने गुरुवार को आईएस आतंकियों के खिलाफ सबसे बड़ी कार्रवाई की। अफगानिस्तान में सुरंगें बनाकर छिपे करीब सात हजार आईएस आतंकियों पर दुनिया का सबसे बड़ा 10 हजार किलो का नॉन-न्यूक्लियर बम GBU-43 गिराया।

IS के खिलाफ कार्रवाई पर बोले ट्रम्प : मिशन कामयाब रहा

इस हमले में कई आतंकियों के मारे जाने की खबर है लेकिन कितने मारे गए हैं इसका अभी तक पता नहीं चल पाया है। इस बीच प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि यह मिशन बेहद कामयाब रहा।
डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा- "मैंने ही अफगानिस्तान में बम गिराये जाने की परमिशन दी थी। हमारे पास दुनिया की सबसे बेहतरीन आर्मी है। आर्मी ने अपना काम बेहद शानदार तरीके से किया।"
"हमने इस हमले को ऐसे डिजाइन किया था जिससे वहां के आम लोगों को परेशानी कम हो और आईएस आतंकियों को बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचे। हमारी आर्मी ने यह काम बखूबी किया।"
रिपोर्ट्स के मुताबिक इससे नॉर्थ कोरिया को मैसेज मिलता है या नहीं मुझे नहीं पता। उन्होंने कहा कि वह देश सभी के लिए एक प्रॉब्लम है। इसका समाधान जल्द ही निकाला जाएगा।

ट्रम्प ने बराक ओबामा पर निशाना साधते हुए कहा कि हमनें पिछले 8 हफ्तों में आर्मी को खुली छूट दी। यही वजह है कि हमारी आर्मी लगातार कामयाब रही है। अमेरिकी आर्मी ने पिछले 8 हफ्तों में काफी अच्छा काम किया है जो शायद पिछले 8 सालों में नहीं हो पाया था।

अफगानिस्तान के पूर्व प्रेसिडेंट हामिद करजई ने अमेरिकी की इस कार्रवाई की निंदा की। उन्होंने कहा कि यह कार्रवाई आतंकवाद के खिलाफ नहीं बल्कि अफगानिस्तानियों के खिलाफ है।

पेंटागन ने बताया कि अफगानिस्तान की नानागढ़ प्रोविन्स के अचिन डिस्ट्रिक्ट में ISIS खुरासान टनल कॉम्प्लेक्स पर ये बम गिराया गया। यहां से महज एक घंटे की दूरी पर पाकिस्तान बॉर्डर है। यहां पर करीब 95 हजार पश्तून कबायली भी रहते हैं। पाकिस्तानी सीमा से सटा पूर्वी अफगानिस्तान का यह जिला अफीम का सबसे बड़ा उत्पादक है। ओसामा बिन लादेन के अल कायदा के आतंकियों ने भी इसी प्रांत में स्थित तोरा-बोरा की गुफाओं में ठिकाना बनाया था।

यूएस मीडिया के मुताबिक "अफगानिस्तान में गुरुवार शाम 7 बजे GBU-43 बम गिराया गया। ये जीपीएस गाइडेड बम था।" बम का वजन 21600 पाउंड यानी करीब 10000 किलोग्राम है। यूएस ने अफगानिस्तान में जो बम गिराया वह सीरिया में बरसाए जा रहे अमेरिकी बमों से 21 गुना ज्यादा वजनी है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

(Last 14 days)

-Advertisement-

Facebook

To Top