शिक्षा

अन्तर्राष्ट्रीय सी.आई.एस.वी. यूथ मीटिंग सी.एम.एस. में 24 जून से

अन्तर्राष्ट्रीय सी.आई.एस.वी. यूथ मीटिंग सी.एम.एस. में 24 जून से

अन्तर्राष्ट्रीय सी.आई.एस.वी. यूथ मीटिंग सी.एम.एस. में 24 जून से

Photo

ब्राजील, चेक रिपब्लिक, इण्डोनेशिया, स्पेन एवं भारत के 30 छात्र प्रतिभाग करेंगे

लखनऊ, 15 जून। सिटी मोन्टेसरी स्कूल की मेजबानी में अन्तर्राष्ट्रीय सी.आई.एस.वी. यूथ मीटिंग ‘लेट्स वर्क इट आउट’ का आयोजन आगामी 24 जून से 1 जुलाई तक किया जा रहा है। यह अन्तर्राष्ट्रीय युवा मीटिंग ‘कान्फ्लिक्ट एण्ड रिजोल्यूशन’ विषय पर आयोजित की जा रही है जिसमें ब्राजील, चेक रिपब्लिक, इण्डोनेशिया, स्पेन एवं भारत के 12 से 13 वर्ष उम्र के छः सदस्यीय बाल दल अपने टीम लीडर के नेतृत्व में प्रतिभाग करने लखनऊ पधार रहे हैं। प्रत्येक छात्र दल में तीन बालक व तीन बालिकाएं सम्मिलित हैं। इस प्रकार कुल 30 छात्र यूथ मीटिंग में प्रतिभाग करेंगे। यह जानकारी सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने दी है। श्री शर्मा ने बताया कि इस आठ दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय मीटिंग के दौरान विभिन्न देशों के प्रतिभागी छात्र वृक्षारोपण कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके अलावा, रंगारंग साँस्कृतिक संध्या का आयोजन भी किया जायेगा, जिसमें प्रतिभागी छात्र अपने-अपने देशों की संस्कृति व सभ्यता की मनोहारी छटा प्रस्तुत करेंगे।

            श्री शर्मा ने बताया कि सी.आई.एस.वी. की विचारधारा के अनुसार छोटी-छोटी बैठकों में ही बड़े-बड़े विचार उभरकर सामने आते हैं एवं यह अन्तर्राष्ट्रीय युवा मीटिंग भी इसी विचार से प्रेरित है जिसके माध्यम से विभिन्न देशों के बच्चे एक मंच पर उपस्थित होकर विश्व में शान्ति, स्थिरता व एकता के नये आयामों की तलाश करेंगे। इस अन्तर्राष्ट्रीय युवा मीटिंग का प्रमुख उद्देश्य सम-सामयिक विषयों पर विभिन्न देशों के नन्हें-मुन्हें बच्चों के विचारों को प्रमुखता देना है तथापि शान्ति-शिक्षा एवं मानवाधिकारों की विचारधारा को बढ़ावा देना है। इस आठ दिवसीय मीटिंग के दौरान विभिन्न देशों के नन्हें-मुन्हें बच्चे विभिन्न जवलन्त विषयों पर बातचीत कर उनके शान्तिपूर्ण समाधान प्रस्तुत करेंगे।

            श्री शर्मा ने बताया कि इंग्लैण्ड की चिल्ड्रेन्स इण्टरनेशनल समर विलेज संस्था (सी.आई.एस.वी.) के तत्वावधान में प्रतिवर्ष एक माह लम्बे अन्तर्राष्ट्रीय बाल शिविर का आयोजन विश्व के विभिन्न देशों में किया जाता है जिसमें सी.एम.एस. छात्र बढ़चढ़कर प्रतिभाग करते हैं। इसके अलावा सी.एम.एस. स्वयं भी प्रत्येक वर्ष एक माह लम्बे अन्तर्राष्ट्रीय बाल शिविर की मेजबानी करता है। इस अन्तर्राष्ट्रीय बाल शिविर में प्रतिभाग करने का प्रमुख उद्देश्य छात्रों की सोच को विस्तृत एवं विश्वव्यापी बनाना है जिससे उनमें अन्य देशों के छात्रों के साथ साँस्कृतिक, अर्न्तसांस्कृतिक एवं अन्तर्राष्ट्रीय समझ विकसित हो। इसी कड़ी में सी.आई.एस.वी. इण्डिया चैप्टर, सिटी मोन्टेसरी स्कूल अन्तर्राष्ट्रीय युवा मीटिंग की मेजबानी कर रहा है जो बच्चों को व्यक्तित्व, दक्षता एवं ज्ञान के विकास का अवसर उपलब्ध करायेगा एवं जिसकी मदद से भावी पीढ़ी राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर सकारात्मक बदलाव ला सकेंगे तथा सक्रिय विश्व नागरिक बन सकेंगे।

ब्राजील, चेक रिपब्लिक, इण्डोनेशिया, स्पेन एवं भारत के 30 छात्र प्रतिभाग करेंगे

लखनऊ, 15 जून। सिटी मोन्टेसरी स्कूल की मेजबानी में अन्तर्राष्ट्रीय सी.आई.एस.वी. यूथ मीटिंग ‘लेट्स वर्क इट आउट’ का आयोजन आगामी 24 जून से 1 जुलाई तक किया जा रहा है। यह अन्तर्राष्ट्रीय युवा मीटिंग ‘कान्फ्लिक्ट एण्ड रिजोल्यूशन’ विषय पर आयोजित की जा रही है जिसमें ब्राजील, चेक रिपब्लिक, इण्डोनेशिया, स्पेन एवं भारत के 12 से 13 वर्ष उम्र के छः सदस्यीय बाल दल अपने टीम लीडर के नेतृत्व में प्रतिभाग करने लखनऊ पधार रहे हैं। प्रत्येक छात्र दल में तीन बालक व तीन बालिकाएं सम्मिलित हैं। इस प्रकार कुल 30 छात्र यूथ मीटिंग में प्रतिभाग करेंगे। यह जानकारी सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने दी है। श्री शर्मा ने बताया कि इस आठ दिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय मीटिंग के दौरान विभिन्न देशों के प्रतिभागी छात्र वृक्षारोपण कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके अलावा, रंगारंग साँस्कृतिक संध्या का आयोजन भी किया जायेगा, जिसमें प्रतिभागी छात्र अपने-अपने देशों की संस्कृति व सभ्यता की मनोहारी छटा प्रस्तुत करेंगे।

            श्री शर्मा ने बताया कि सी.आई.एस.वी. की विचारधारा के अनुसार छोटी-छोटी बैठकों में ही बड़े-बड़े विचार उभरकर सामने आते हैं एवं यह अन्तर्राष्ट्रीय युवा मीटिंग भी इसी विचार से प्रेरित है जिसके माध्यम से विभिन्न देशों के बच्चे एक मंच पर उपस्थित होकर विश्व में शान्ति, स्थिरता व एकता के नये आयामों की तलाश करेंगे। इस अन्तर्राष्ट्रीय युवा मीटिंग का प्रमुख उद्देश्य सम-सामयिक विषयों पर विभिन्न देशों के नन्हें-मुन्हें बच्चों के विचारों को प्रमुखता देना है तथापि शान्ति-शिक्षा एवं मानवाधिकारों की विचारधारा को बढ़ावा देना है। इस आठ दिवसीय मीटिंग के दौरान विभिन्न देशों के नन्हें-मुन्हें बच्चे विभिन्न जवलन्त विषयों पर बातचीत कर उनके शान्तिपूर्ण समाधान प्रस्तुत करेंगे।

            श्री शर्मा ने बताया कि इंग्लैण्ड की चिल्ड्रेन्स इण्टरनेशनल समर विलेज संस्था (सी.आई.एस.वी.) के तत्वावधान में प्रतिवर्ष एक माह लम्बे अन्तर्राष्ट्रीय बाल शिविर का आयोजन विश्व के विभिन्न देशों में किया जाता है जिसमें सी.एम.एस. छात्र बढ़चढ़कर प्रतिभाग करते हैं। इसके अलावा सी.एम.एस. स्वयं भी प्रत्येक वर्ष एक माह लम्बे अन्तर्राष्ट्रीय बाल शिविर की मेजबानी करता है। इस अन्तर्राष्ट्रीय बाल शिविर में प्रतिभाग करने का प्रमुख उद्देश्य छात्रों की सोच को विस्तृत एवं विश्वव्यापी बनाना है जिससे उनमें अन्य देशों के छात्रों के साथ साँस्कृतिक, अर्न्तसांस्कृतिक एवं अन्तर्राष्ट्रीय समझ विकसित हो। इसी कड़ी में सी.आई.एस.वी. इण्डिया चैप्टर, सिटी मोन्टेसरी स्कूल अन्तर्राष्ट्रीय युवा मीटिंग की मेजबानी कर रहा है जो बच्चों को व्यक्तित्व, दक्षता एवं ज्ञान के विकास का अवसर उपलब्ध करायेगा एवं जिसकी मदद से भावी पीढ़ी राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर सकारात्मक बदलाव ला सकेंगे तथा सक्रिय विश्व नागरिक बन सकेंगे।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

Facebook

To Top