उत्तर प्रदेशकानून-व्यवस्था

पुलिस अधीक्षक डॉक्टर गौरव ग्रोवर द्वारा की गई अपराध गोष्ठी

पुलिस अधीक्षक डॉक्टर गौरव ग्रोवर द्वारा की गई अपराध गोष्ठी

पुलिस अधीक्षक डॉक्टर गौरव ग्रोवर द्वारा की गई अपराध गोष्ठी

Photo

बहराइच। पुलिस अधीक्षक बहराइच डा0 गौरव ग्रोवर द्वारा रविवार दिनांक 03.11.19 को पुलिस लाईन में माह अक्टूबर की अपराध गोष्ठी का आयोजन किया गया । पुलिस अधीक्षक द्वारा जनपद में शांति व्यवस्था, कानून व्यवस्था एवं यातायात व्यवस्था सुदृढ़ करने हेतु दिशा निर्देश दिए गए। बैठक में त्यौहार के संबन्ध में वार्ता की गई।

पुलिस अधीक्षक द्वारा अयोध्या प्रकरण में आने वाले माननीय सुप्रीमकोर्ट के निर्णय के सम्बन्ध में भी सभी प्रभारी निरीक्षकगणों को सतर्क दृष्टि बनाये रखने व उक्त के सम्बन्ध मे आवश्यक कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया।

पुलिस अधीक्षक डॉक्टर गौरव ग्रोवर द्वारा सभी थानाध्यक्षों को शांति समिति की मीटिंग व डीजे वालों के साथ मीटिंग कर सभी तैयारिया पूर्ण कर लेने हेतु निर्देशित किया गया । जनपद मे अवैध कच्ची शराब के निर्माण, भंडारण, परिवहन, बिक्री एवं अवैध खनन जैसे अपराधो पर प्रभावी नियंत्रण लगाने हेतु समस्त प्र०नि०/ थानाध्यक्षों को निर्देश दिए गए । जनपद के अनावरित को शेष अभियोगों का त्वरित अनावरण हेतु निर्देशित किया गया तथा सभी प्र०नि०/थानाध्यक्ष को बताया गया की वह विवेचनाओं, पुराने  प्रार्थना पत्रों, जनशिकायत एवं आई.जी.आर.यस. द्वारा प्राप्त प्रार्थना पत्रों के गुणवत्ता पूर्ण एवं समयबद्ध निस्तारण करें । जनसुनवाई में लापरवाही न बरती जाय । आई. जी. आर. यस. डिफाल्टर एवं सी श्रेणी में नहीं होने चाहिए । थानों की साफ सफाई एवं रंगाई पुताई कराई जाए तथा प्रत्येक थाने पर महिला प्रसाधन बनाये जाए । आगंतुकों के बैठने की उत्तम व्यवस्था की जाए । सभी थानाध्यक्ष प्रत्येक दिन थाने पर जनता दर्शन के समय उपस्थित होकर जनसुनवाई हेतु निर्देशित किया गया । पुलिस अधीक्षक द्वारा सभी थाना प्रभारियों को निर्देशित किया गया कि किसी भी थाने में गोकसी की घटना नहीं होना चाहिए । आरक्षी से लेकर निरीक्षक तक उत्तरदायित्व निर्धारित है । अच्छे कार्य करने वालों को पुरष्कृत एवं शिकायत प्राप्त होने पर दोषी कर्मचारियों को दंडित किया जाएगा । महिला संबंधी अपराधों में त्वरित कार्यवाही की जाए । अपराध पर नियंत्रण एवं अपराधियों पर कठोर कार्यवाही की जाए । पुलिस कर्मियों को दृश्यता, गतिशीलता, सजगता एवं सतर्कता बनाये रखने हेतु विशेष जोर दिया गया । शहर व ग्रामीण इलाकों में पैदल गश्त, साइबर अपराध रोकथाम सम्बन्धी प्रचार प्रसार, साक्ष्य के आधार पर विवेचनाओं का निस्तारण एवं अभियुक्तों के प्रति वैधानिक कार्यवाही, निरोधात्मक कार्यवाही में गुण्डा/ गैगेस्टर एक्ट के अन्तर्गत अभियान चलाकर कार्यवाही किये जाने आदि बिन्दुओं पर,निर्देश दिये गये। पुरस्कार घोषित अपराधियों के बारे में जानकारी ली गयी तथा उनकी गिरफ्तारी करने के लिए भी निर्देश दिये गये। गम्भीर मामले जो अनावरण हेतु शेष हैं, उनके शीघ्र अनावरण तथा जनता से दुर्व्यवहार न करने हेतु हिदायत किया गया।

इस अवसर पर अपर पुलिस अधीक्षक नगर अजय प्रताप, अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण  रवीन्द्र सिंह, सीओ नगर  त्रयंबक नाथ दुबे, सीओ नानपारा अरुण चन्द्र, सीओ महसी शंकर प्रसाद , सीओ कैसरगंज  त्रिवेणी प्रसाद द्विवेदी ,प्रतिसार निरीक्षक संतोष कुमार सिंह, प्रधान लिपिक  कल्याँण दीक्षित, व जनपद के समस्त प्रभारी निरीक्षक/थानाध्यक्ष व शाखा प्रभारी उपस्थित रहे।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top