कानून-व्यवस्था

पहली बार देश की सर्वोच्च अदालत में होंगी 3 महिला जज

पहली बार देश की सर्वोच्च अदालत में होंगी 3 महिला जज

पहली बार देश की सर्वोच्च अदालत में होंगी 3 महिला जज

Photo

लॉ एंड जस्टिस मिनिस्ट्री ने शुक्रवार को जस्टिस इंदिरा बनर्जी की नियुक्ति को सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में मंजूरी दे दी. इस नियुक्ति के साथ सुप्रीम कोर्ट में पहली बार ऐसा मौका आया है जब तीन महिला न्यायाधीश शीर्ष अदालत में हैं. ये महिला न्यायमूर्ति आर भानुमति, इंदु मल्होत्रा और न्यायमूर्ति इंदिरा बनर्जी हैं. 60 वर्षीय बनर्जी, मद्रास उच्च न्यायालय की मुख्य न्यायाधीश थी. केंद्र ने ओडिशा उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश विनीत सरन और उत्तराखंड उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश केएम जोसेफ की शीर्ष अदालत में नियुक्ति को मंजूरी दे दी है I

केंद्र ने जम्मू-कश्मीर उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में दिल्ली उच्च न्यायालय के कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति गीता मित्तल को भी नियुक्त किया है. वह जम्मू-कश्मीर उच्च न्यायालय में नियुक्त होने वाली पहली महिला न्यायाधीश हैं. इसके एक दिन पहले सिंधु शर्मा को उच्च न्यायालय की पहली महिला न्यायाधीश नियुक्त किया गया था I

पटना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति राजेंद्र मेनन अब दिल्ली उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में कार्य करेंगे और राजस्थान उच्च न्यायालय के न्यायाधीश जस्टिस कल्पेश सत्येंद्र झावेरी विनीत सरन की जगह लेंगे. न्यायमूर्ति विजय के तहिलरामानी मद्रास उच्च न्यायालय में इंदिरा बनर्जी की जगह लेंगे I

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top