गैजेट्स न्यूज़

एक अक्टूबर से अब मोबाइल नंबर 10 नहीं 13 अंकों के होंगे

 एक अक्टूबर से अब मोबाइल नंबर 10 नहीं 13 अंकों के होंगे

एक अक्टूबर से अब मोबाइल नंबर 10 नहीं 13 अंकों के होंगे

Photo

केंद्रीय संचार मंत्रालय ने सभी राज्यों को निर्देश जारी किए हैं, जिसमें ये कहा गया है कि अब मोबाइल नंबर 10 अंकों से बदलकर 13 अंकों का हो सकता है।  जो 31 दिसंबर, 2018 तक सभी नंबर्स के साथ पूरा किया जा सकता है। इसकी शुरुआत 1 जुलाई से ही शुरू हो जाएगी।

10 अंकों की सीरीज हो गयी है पूरी 

मीडिया खबरों के अनुसार 10 अंकों से 13 अंकों का मोबाइल नंबर करने के पीछे की वजह अब नए मोबाइल नंबर्स की गुंजाइश नहीं होना है। 10 अंकों की सीरीज लगभग पूरी हो चुकी है। ऐसे में अब इसे 13 अंकों का करके सभी यूजर्स को नंबर्स को अपग्रेड किया जाएगा।

अक्टूबर से शुरू होगी प्रॉसेस

डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकॉम (DoT) के अनुसार उपस्थित सभी 10 अंकों वाले मोबाइल नंबर एक अक्टूबर, 2018 से 13 अंकों वाले नंबर में माइग्रेट होने के लिए शुरू कर दिया जायेगा। इस  प्रक्रिया का समय 31 दिसंबर तक पूरी हो जानी है। लेकिन अभी  ये साफ नहीं किया गया है कि 13 अंकों के मोबाइल नंबर में कंट्री कोड (जैसे भारत का +91 है) भी शामिल होगा या नहीं।

मशीन-टू-मशीन (M2M) कम्यूनिकेशन के लिए 13 डिजिट के नंबर

बीएसएनएल के अनुसार कंपनी M2M या मशीन-टू-मशीन M2M कम्यूनिकेशन के लिए 13 डिजिट के नंबरों का इस्तेमाल करेगी। इसका आम आदमी के मोबाइल नंबर से कोई लेनादेना नहीं है। बीएसएनएल ने सभी स्टेकहोल्डर्स को 1 जुलाई से पहले इसके अनुरूप अपने सिस्टम को एडजस्ट करने की सलाह दे दी है। जो 10 डिजिट के M2M नंबर से 13 डिजिट में लाने की प्रक्रिया 1 अक्टूबर से शुरू हो जाएगी। M2M कम्यूनिकेशन की नई व्यवस्था को 31 दिसंबर तक पूरा कर लिया जाएगा।

M2M कम्यूनिकेशन में बदलाव से बीएसएनएल के उपभोक्ताओं को किसी तरह की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। M2M कम्यूनिकेशन के तहत नेटवर्क डिवाइस के बीच सूचनाओं का आदान प्रदान होता है।

आपको बता दें कि M2M कम्यूनिकेशन का इस्तेमाल आमतौर पर वेयरहाउस मैनेजमेंट, रोबोटिक्स, ट्रैफिक कंट्रोल, लॉजिस्टिक्स सर्विसेज, सप्लाई मैनेजमेंट, रीमोट कंट्रोल आदि में किया जाता है। इसके अलावा इंटरनेट के क्षेत्र में भी इसकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

बीएसएनएल ने जेडटीई टेलीकॉम इंडिया लिमिटेड और नोकिया सॉल्यूशंस एंड नेटवर्क इंडिया प्राइवेट लिमिटेड को पत्र के जरिये M2M कम्यूनिकेशन में बदलाव की जानकारी दी गई है।सरकारी दूरसंचार कंपनी ने दोनों कंपनियों को इसके अनुसार अपने सिस्टम में बदलाव करने को कहा है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top