उत्तर प्रदेशहक़ीक़तमुद्दा

72 सालो का विकास देखना है, तो मझारी दुल्हा, बम्बाडीह, पचौथा आइये

72 सालो का विकास देखना है, तो मझारी दुल्हा, बम्बाडीह, पचौथा आइये

72 सालो का विकास देखना है, तो मझारी दुल्हा, बम्बाडीह, पचौथा आइये

Photo

बलरामपुर। देश आजाद हुए लगभग 72 साल हो चुके हैं इस बीच तमाम सरकारें आई और गई, तमाम छोटे कर्मचारी से लेकर आला अधिकारी तक आए और गए। विकास के बड़े-बड़े दावे हर सरकारों ने की और गांव की तस्वीर बदलने के लिए हर सरकारों ने अपना पीठ ठोका, की गांव की हकीकत बदल रही है। गांव की सुख-सुविधाओं के लिए बिजली पानी सड़क सभी को बेहतर करने का दावा सभी सरकारों ने किया । लेकिन आजादी से लेकर आज 72 साल गुजर जाने के बाद कई गांव ऐसे हैं जिनको विकास से कोसों दूर देखा जा सकता है । और वह सड़कों के लिए तरस रहे हैं । हल्की सी बरसात गांव को टापू में तब्दील कर देती है ।और सरकार के दावों की पोल खोल देती है।लोग मजबूर होकर अपनी सुविधा के लिए खुद काम करने को मजबूर है ।जो एक शासन प्रसासन के मुह पर करारा तमाचा है।

हम बात कर रहे हैं राप्ती नदी के किनारे बसे बाढ़ ग्रस्त गांव मझारी दूल्हा, बम्बाडीह और पचौथा की, जहां हल्की सी बरसात देश में हुए 72 सालों में विकास की पोल खोल कर रख देती है । पचौथा में बना एएनएम सेंटर स्वास्थ्य विभाग पर खड़ा हंस रहा है ।और स्वच्छ भारत मिशन देखना है तो पचौता से टच होकर मझारी दूल्हा जाने वाले रास्ते पर देखिए, यहां की गंदगी आप देखकर, इस दृश्य को दिमाग से निकालने में हफ्ता लग जाएगा। दलदल का नाम जब आप सुनते होंगे तो आपको नदी का किनारा या फिर जंगल की कहानी याद आती होगी ।लेकिन यहां तो मेनरोड पर मझारी दूल्हा जाने वाला पचौथा प्राइमरी विद्यालय के पास से विनोद गौतम के घर तक दलदल ही दलदल मिलेगा ।आपको इस रास्ते पर चलना जान जोखिम में डालकर चलना है ।वहीं अगर हम बात करें पचौथा से होकर बम्बाडीह और फिर मझारी दूल्हा के रास्ते कि तो यहां आपको रास्ते मे हाजी रफीक के बगीचे पर एक मोटरसाइकिल स्टैंड दिख सकता है । जो गांव पर ना जाकर यहां खड़ा किया जाता है। इन गांवों के लिए सरकार के द्वारा दी गई सुविधा 100 नंबर 108 नंबर 102 नंबर यहां तो कुछ दिनों के लिए सपना ही हो जाती है। सरकार के द्वारा विकास कार्य सिर्फ कागजों में होगा ,यहां के लगभग दसो हजार की आबादी सरकार के द्वारा विकास कराए जाने का सपना संजोए हुुए है। लेकिन क्या हाजी डी से लेकर पचौथा, मझारी दूल्हा,बम्बाडीह तक सड़क बनेगी । और मझारी दूल्हा, बम्बाडीह के लोगों को संपर्क मार्ग से जुड़ने का मौका मिलेगा या यू कहे कि पक्की सड़क मिलेगी । पचौथा में खड़ा एएनएम सेंटर से लोगों को स्वास्थ्य सुविधा मिल पाएगी । ऐसे न जाने कितने सवाल क्षेत्रवासियों के दिलों में हैं ।जिसको शासन, प्रशासन, विधायक, सांसद को ध्यान देने की जरूरत है । कि 72 सालों में जो विकास ना हो सका । वह अब कराने की जरूरत है जिससे क्षेत्रवासियों को इसका लाभ मिल सके और लोगों की सरकार से जो आशाएं हैं वह पूरी हो सके।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top