खेल-संसार

INDvsSA : टीम इंडिया के ये 4 धुरंधरों ने रचा इतिहास

INDvsSA : टीम इंडिया के ये 4 धुरंधरों ने रचा इतिहास

INDvsSA : टीम इंडिया के ये 4 धुरंधरों ने रचा इतिहास

Photo

6 मैचों की सीरीज में लगातार तीनों मैच जीतकर टीम इंडिया के धुरंधरों ने दक्षिण अफ्रीका को पूरी तरह से नेस्तानाबूद कर दिया है। टेस्ट सीरीज गंवाने के बाद टीम इंडिया ने पलटकर ऐसा वार किया है कि अफ्रीका टीम पूरी तरह से आश्चर्यचकित हो गई है। टीम के कई खिलाड़ी या तो चोटिल हैं, या फिर अपने ही घर में बल्लेबाजी और गेंदबाजी में संघर्ष करते दिख रहे हैं।

ऐसे में टीम इंडिया ने हर क्षेत्र में शानदार प्रदर्शन किया है, फिर चाहे वह बल्लेबाजी, गेंदबाजी हो या फिर क्षेत्ररक्षण। टीम इंडिया ने अफ्रीका को उसके घर में ही नाको चने चबवा दिए हैं, अपनी ही जमीन पर अफ्रीका की ऐसी हार पहली बार हुई है। टीम इंडिया की ओर से इस जीत के चार बड़े हीरो हैं....  

विराट कोहली : विराट  कोहली ने तीसरे मैच में दूसरा शतक जड़ दिया। इस दौरे पर अब तक वह 600 से ज्यादा रन बना चुके हैं। तीसरे वनडे मैच में विराट ने 119 गेंद में अपना 34वां वनडे शतक पूरा किया। कोहली का यह कप्तान के रूप में 12वां शतक है जो कप्तान के रूप में किसी भारतीय बल्लेबाज के सबसे अधिक शतक हैं। कप्तान के रूप में उनसे अधिक शतक केवल आस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग (22) और दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स (13) ने ही बनाए हैं। विराट ने इस मैच में नाबाद 160 रनों की पारी खेली। उनके स्कोर के कारण ही टीम इंडिया 303 रनों का पहाड़ जैसा लक्ष्य खड़ा कर सकी।

शिखर धवन : दक्षिण अफ्रीकी जमीन पर अब तक ज्यादा कमाल नहीं दिखा सके शिखर धवन तीसरे वनडे में पूरी रंग में दिखे। रोहित शर्मा के रूप में पहला विकेट जल्दी गिर जाने के बाद उन्होंने विराट के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए शतकीय साझेदारी की। शिखर ने 76 रनों की पारी खेली। उनकी इस पारी से उन्होंने जता दिया कि वह किसी भी पिच पर रन बना सकते हैं।

युजवेंद्र चहल : अफ्रीका के लिए अबूझ पहेली बन चुके टीम इंडिया के स्पिनर इस सीरीज में जीत के लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार हैं। उनकी फिरकी का जवाब अफ्रीका के किसी भी बल्लेबाज के पास नहीं है। दूसरे वनडे में 5 विकेट लेने वाले युजवेंद्र चहल ने इस मैच में भी अफ्रीका को 4 बड़े झटके दिए। उनकी फिरकी के जाल में ही फंसकर अफ्रीकी टीम सिमट गई।

कुलदीप यादव : इस चाइनामैन बॉलर ने टीम इंडिया को उस समय सफलता दिलाई, जब उसे सबसे ज्यादा विकेट की जरूरत थी। एडेन मार्करम और जेपी ड्यूमिनी दूसरे विकेट के लिए 78 रनों की साझेदारी कर चुके थे, लेकिन तभी कुलदीप की गेंद पर मार्करम की गिल्लियां धोनी ने बिखेर दी। धोनी का ये 400वां शिकार था। कुलदीप ने 4 विकेट लिए।
 

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top