सियासत

भाजपा के साम, दाम, दंड, भेद व अन्य हथकंडों से हार नहीं मानेंगी : मायावती

भाजपा के साम, दाम, दंड, भेद व अन्य हथकंडों से हार नहीं मानेंगी  : मायावती

भाजपा के साम, दाम, दंड, भेद व अन्य हथकंडों से हार नहीं मानेंगी : मायावती

Photo

लखनऊ. पार्टी के राज्य कार्यालय में आयोजित बैठक में पार्टी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि उनकी पार्टी किसी भी दशा में न तो पहले कांग्रेस से हार मानी है और न ही वर्तमान में भाजपा के साम, दाम, दंड, भेद व अन्य हथकंडों से हार मानेगी है। केंद्र में मोदी सरकार के लगभग चार साल व उत्तर प्रदेश की सत्ता में आए लगभग एक वर्ष हो रहा है,लेकिन देश और प्रदेश दोनों में हालात सुधरने के बजाय बदतर ही होते जा रहे हैं।

साथ में ये भी कहा, "जनता इनकी असलियत समझ चुकी है, इसलिए अब और ज्यादा भ्रमित होकर भाजपा के फरेब में आने को तैयार नहीं लगती। प्रधानमंत्री मोदी की बार-बार की भावुकता व उत्तर प्रदेश सरकार की भगवाकरण की राजनीति से प्रदेश की आम जनता का पेट नहीं भर पा रहा है और न ही यहां के लोगों की गरीबी, भुखमरी, बेरोजगारी व महंगाई कम होकर उन्हें थोड़ा राहत ही दे पा रही है। अतः आमजनता के पास वोटबंदी का जो जबर्दस्त लोकतांत्रिक हथियार है, उसे वह भाजपा के खिलाफ इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है।"

मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश की लगभग 22 करोड़ जनता, गुजरात की तरह ही भाजपा को सबक सिखाने का मन बना ली है। सच तो यह है कि गुजरात की जनता ने भाजपा को नकार दिया है। मोदी और अमित शाह ने काफी तिकड़म कर किसी तरह फिर से सत्ता तो दिला दी, लेकिन 150 सीटें दिलाने का उनका दंभ धरा रह गया। उनकी पार्टी 100 सीटें भी नहीं जीत पाई। जब मोदी के अपने ही राज्य में पार्टी का जनाधार खिसक गया, तब और जगह क्या हाल होगा, इसका अनुमान लगाया जा सकता है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

Facebook

To Top