राष्ट्रीय

ट्रिपल तलाक बिल को लेकर मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने मोदी को लिखा पत्र

ट्रिपल तलाक बिल को लेकर मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने मोदी को लिखा पत्र

ट्रिपल तलाक बिल को लेकर मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने मोदी को लिखा पत्र

Photo

आज यानि गुरुवार को सरकार लोकसभा में तीन तलाक पर बिल पेश कर सकती है। खबरों के मुताबिक़ बैठक में तीन तलाक बिल के पक्ष में अब कांग्रेस भी दिया साथ। ऐसे में मुमकिन है कि केंद्र सरकार के लिए इस बिल को पास करवाने का रास्ता साफ हो गया है। वही दूसरी तरफ तीन तलाक पर देश में चल रही बहस के बीच आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर इस सम्बन्ध में संसद में विधेयक पेश नहीं करने की अपील की है। बोर्ड के अध्यक्ष राबे हसन नदवी ने मोदी को लिखे पत्र में कहा है, संसद में तीन तलाक के सम्बन्ध में विधेयक पेश नहीं किया जाये। विधेयक पेश करना यदि जरुरी ही है तो पेश करने से पहले इस बारे में मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के साथ ही मुस्लिम विद्वानों से राय मशविरा कर लिया जाना चाहिए। बोर्ड के सदस्य जफरयाब जिलानी ने बताया कि श्री नदवी ने दो दिन पहले मोदी को पत्र भेजा है। अभी तक उसका कोई जवाब नहीं आया है।

आपको बता दे कि तीन तलाक विधेयक को गृह मंत्री राजनाथ सिंह के नेतृत्व वाले अंतर मंत्रीस्तरीय समूह ने तैयार किया है जिसमें मौखिक, लिखित या एसएमएस या व्हाट्सएप के जरिये किसी भी रूप में तीन तलाक या तलाक-ए-बिद्दत को अवैध करार देने और पति को तीन साल के कारावास की सजा का प्रावधान किया गया है। इस विधेयक को इस महीने ही केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मंजूरी दी थी। यह विधेयक पिछले हफ्ते पेश किया जाना था लेकिन संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने संवाददाताओं से कहा था कि इसे अगले सप्ताह पेश किया जाएगा। इस बिल को ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने महिला विरोधी बताया है। रविवार को लखनऊ में हुई पर्सनल लॉ बोर्ड की वर्किंग कमेटी की बैठक में तीन तलाक पर प्रस्तावित बिल को लेकर चर्चा की गई। कई घंटों चली बैठक के बाद बोर्ड ने इस बिल को खारिज करने का निर्णय लिया।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top