राज्यउत्तर प्रदेशस्वास्थ्य

जनपद में 02 दिसम्बर से प्रारम्भ होगा सघन-मिशन-इन्द्रधनुष का प्रथम चरण

जनपद में 02 दिसम्बर से प्रारम्भ होगा सघन-मिशन-इन्द्रधनुष का प्रथम चरण

जनपद में 02 दिसम्बर से प्रारम्भ होगा सघन-मिशन-इन्द्रधनुष का प्रथम चरण

Photo

बहराइच। राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम अन्तर्गत जनपद में 02 दिसम्बर 2019 से 04 चरणों में संचालित होने वाले ‘‘सघन मिशन इन्द्रधनुष’’ की सफलता के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय के सभागार में मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द चौहान की अध्यक्षता में एक दिवसीय मीडिया वर्कशाप का आयोजन किया गया। जिसमें बड़ी संख्या में मीडिया प्रतिनिधियों द्वारा प्रतिभाग किया गया।

मीडिया वर्कशाप को सम्बोधित करते हुए मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ. सुरेश सिंह ने बताया कि ‘‘सघन मिशन इन्द्रधनुष’’ 04 चरणों में प्रस्तावित है। प्रथम चरण 02 दिसम्बर 2019, द्वितीय चरण 06 जनवरी, तृतीय चरण 03 फरवरी व चतुर्थ चरण 02 मार्च 2020 से संचालित होगा। सीएमओ डाॅ. सिंह ने बताया कि आगामी 04 माहों के प्रथम सोमवार से चरणों का श्रीेगणेश होगा और बुधवार, शनिवार, रविवार, व सरकारी अवकाश को छोड़कर प्रत्येक चरण 07 दिवसों का होगा। अभियान के दौरान 0-2 वर्ष के 32246 बच्चों, तथा 7236 गर्भवती महिलाओं को टीकाकरण से आच्छादित किया जायेगा। अभियान में 2542 सत्र होगें तथा अभियान के सफल संचालन हेतु 700 एएनएम को लगाया गया है।

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा बी.पी. वर्मा द्वारा अवगत कराया गया कि नियमित टीकाकरण से छूटे बच्चों को सघन मिशन इन्द्रधनुष के माध्यम से टीकाकरण कर आच्छादित किया जायेगा। इस अभियान में 10 जानलेवा बीमारियों जैसे-टीबी, पोलियो, हेपेटाइटिस-बी, निमोनिया, दस्त, गलाघोटू, काली खाॅसी, दिमागी बुखार, खसरा, रूबैला से बचाव हेतु टीकाकरण किया जाना है।

मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द चौहान ने मीडिया वर्कशाप के माध्यम से आमजन से अपील की है कि सभी लोग सघन मिशन इन्द्र धनुष अभियान के दौरान लक्षित गर्भवती महिलाओं व 0-2 वर्ष तक के बच्चों को बूथ पर ले जाकर अनिवार्य रूप से रक्षक टीके लगवायें। श्री चौहान ने आमजन से यह भी अपेक्षा की है कि अपने आस-पास के लोगों, रिश्तेदारों, परिचितों को भी सघन मिशन इन्द्रधनुष की जानकारी प्रदान कर टीकाकरण के लिए प्रेरित भी करें। अरविन्द चौहान मीडिया प्रतिनिधियों से अपील की है कि टीकाकरण अभियान को जन-जन तक पहुॅचायें के साथ-साथ टीकाकरण से जुड़ी भ्रान्तियों को भी दूर करने में भी सहयोग प्रदान करें।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top