राष्ट्रीय

मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी, उत्तर भारत में भी होगा गर्मी का प्रकोप

मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी, उत्तर भारत में भी होगा गर्मी का प्रकोप

मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी, उत्तर भारत में भी होगा गर्मी का प्रकोप

Photo

नई दिल्ली.  उत्तर भारत में गर्मी ने अपना प्रकोप दिखाना शुरू कर दिया है। मार्च के महीने में ही धूप की तपिश ने लोगों को इतना परेशान कर दिया है। वही गुजरात में तापमान सबसे ज्यादा बढ़ा हुआ है। प्रदेश के कई शहरों में पारा 40 डिग्री से ऊपर चला गया है। सोमवार का पोरबंदर में सबसे ज्यादा गर्मी देखी गई। पोरबंदर का तापमान सोमवार को 42.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया, वहीं 41.9 डिग्री सेल्सियस के साथ सूरत इसके ठीक पीछे था। अहमदाबाद में भी तापमान सामान्य से ऊपर रिकॉर्ड किया गया।

मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी
मौसम विभाग का कहना है कि सौराष्ट्र में लू चलने से हालात और खराब हो सकते हैं। वहीं अहमदाबाद में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है। अहमदाबाद में मौसम विभाग के डायरेक्टर डॉ. जयंत सरकार ने कहा कि उत्तरी गुजरात और राजस्थान में भीषण गर्मी का कारण विरोधी चक्रवात परिसंचरण है जो प्रदेश में सूखी और गर्म हवा ला रहा है। डॉ. सरकार ने कहा कि मंगलवार से मौसम में बदलाव देखा जा सकता है क्योंकि हवा के पैटर्न दक्षिण-पश्चिम में पश्चिमी तक होंगे और यह अरब सागर से नमी लाएगा जिससे गर्मी कम हो सकती है।

नगर निगमों ने जारी की एडवाइजरी 
प्रदेश में गर्मी से हालात काफी खराब हो गए हैं। सूरत में पिछले दो दिनों में डिहाइड्रेशन, हल्के बुखार, पेट दर्द और बेहोशी के मामलों में 10-15% की वृद्धि हुई है। सूरत नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि उन्होंने अपने 40 से ज्यादा स्वास्थ्य केंद्रों और अन्य अस्पतालों के लिए गर्मी से संबंधित मामलों की निगरानी के लिए एक एडवाइजरी जारी की है। राजकोट नगर निगम ने भी अगले दो दिनों में एक गर्मी की चेतावनी जारी की है।

गर्मी से हुई महिला की मौत?
सुरेंद्रनगर जिले के लिंबडी शहर में एक महिला की गर्मी के कारण मौत हो गई। 70 वर्षीय नूरजहां रमजान शेख ढोलका के भडियाड पीर दरगाह की तीर्थ यात्रा पर गईंतीं जब रविवार को हाईवे पर वो चक्कर खाकर गिर पड़ीं। उनके परिवार वाले उन्हें लिंबडी पब्लिक अस्पताल लेकर गए जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। शेख के परिवार का आरोप है कि तीर्थ यात्रा पर जा रहे लोगों के लिए कोई मेडिकल सुविधा नहीं थीं। हालांकि सुरेंद्रनगर के डॉ. एसएम देव ने ऐसी किसी मौत से इनकार किया है। लिंबडी पुलिस स्टेशन का भी कहना है कि लू से कोई मौत रिपोर्ट नहीं की है।

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top