उत्तर प्रदेश

क्यों लौटी बारात बिना दुल्हन के वापस ?

क्यों लौटी बारात बिना दुल्हन के वापस ?

क्यों लौटी बारात बिना दुल्हन के वापस ?

Photo

मिश्रौली नरायनपुर गांव जिले से 28 किलोमीटर दूर लम्भुआ कोतवाली अंतर्गत लम्भुआ-गरये रोड पर मिश्रौली नरायनपुर गांव स्थित है। दो महीने पहले यहां के निवासी रामगोपाल सोनी की बेटी शिवानी का ब्याह जौनपुर ज़िले के शाहगंज निवासी शिवराम सोनी के बेटे अर्जुन सोनी के साथ तय हुई थी। शादी कि तारीख के अनुसार अर्जुन के बाप शिवराम अपने रिश्ते-नाते और संम्बधियों के साथ बेटे की बारात लेकर बीते शुक्रवार की रात मिश्रौली नरायनपुर गांव पहुंचे थे। जहाँ हर कोई हंसी-खुशी स्वागत-सत्कार में भी लगा था। रात से लेकर सुबह  तक सबकुछ ठीक-ठाक चल रहा था। शादी की सभी रस्में पूरी हो गयी थी। शनिवार भोर में विदाई की तैयारी होने लगी। विदाई के समय दूल्हा बेहोश होकर ज़मीन पर गिर पड़ा।  दूल्हे के इस तरह गिरते ही, वहां लोगों की भीड़ जमा हो गयी। इस पर घरातियों ने दूल्हे को मिर्गी रोग से ग्रस्त होने का आरोप लगाते हुए बारात बैरंग वापस लौटा दी।  इसके बाद दोनो पक्षों में जमकर नोकझोंक हुई अंत में मान-मनौव्वल भी हुई पर बारात बिन दुल्हन के ही वापस गई।
 

नवीनतम न्यूज़ अपडेट्स के लिए Twitter, Facebook पर हमें फॉलो करें और हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लें।

Most Popular

-Advertisement-

Facebook

To Top